आ ही गए भारत में चीते, PM Modi ने देशवासियों को दी बधाई

0
154

आज का दिन सिर्फ PM Narendra Modi के जन्मदिन के लिए ही नहीं बल्कि भारत से लुप्त हो चुके चीतों को वापिस भारत में लाए जाने की ख़ुशी में याद किया जा रहा है। देश के PM Modi ने जन्मदिन के मौके पर Namibia से भारत लाए गए 8 चीतों को मध्य प्रदेश के श्योपुर स्थित कूनो नेशनल पार्क में छोड़कर चीता परियोजना का शुभारंभ किया।

PM Modi ने बटन दबाकर पिंजड़े का दरवाज़ा खोला और चीतों को कूनो नेशनल पार्क में रिहा किया। चीतों को छोड़ते हुए खुद कैमरे में कैप्चर किया। PM Modi ने मध्य प्रदेश के कूनो नेशनल पार्क में Namibia के चीतों को छोड़ने के बाद कहा कि आज चीता दशकों बाद हमारी धरती पर वापस आए हैं। और इस ऐतिहासिक दिन पर मैं सभी देशवासियों को बधाई देना चाहता हूं। इसके साथ ही Namibia की सरकार को भी धन्यवाद देना चाहता हूं। क्योंकि यह उनकी मदद के बिना संभव नहीं हो सकता था।

PM Modi ने आगे कहा कि हमने उस समय को भी देखा, जब प्रकृति के दोहन को शक्ति प्रदर्शन का प्रतीक मान लिया गया था। साल 1947 में जब देश में केवल तीन चीते बचे थे, तो उनका भी शिकार कर लिया गया। और ये दुर्भाग्य रहा कि 1952 में हमने चीतों को विलुप्त तो घोषित कर दिया। लेकिन आज आजादी के अमृत काल में देश नई ऊर्जा के साथ चीतों के पुनर्वास के लिए जुट गया है।

PM Modi ने कहा कि एक ऐसा काम राजनैतिक दृष्टि से जिसे कोई महत्व नहीं देता, इसके पीछे हमने वर्षों ऊर्जा लगाई। जिसके चलते हमने चीता एक्शन प्लान बनाया। हमारे वैज्ञानिकों ने नामीबिया के एक्सपर्ट के साथ काम किया। और पूरे देश में वैज्ञानिक सर्वे के बाद नेशनल कूनो पार्क को शुभ शुरुआत के लिए चुना गया। अबकूनो नेशनल पार्क में चीता फिर से दौड़ेंगे। आने वाले दिनों में यहां ईको टूरिज्म बढ़ेगा। साथ ही रोजगार के नए अवसर बढ़ेंगे।

हमारे यहां चीते मेहमान बनकर आए और इस क्षेत्र से अनजान हैं। कूनो को ये चीते अपना घर बना पाएं, इसीलिए हमें इन्हें कुछ महीनों का समय देना होगा। इंटरनेशनल मापदंड के अनुसार ही भारत इन चीतों को बसाने की पूरी कोशिश कर रहा हैं।

यह भी पढ़ें – Dream Girl 2 Teaser Out : इस बार ईद पर ‘पूजा’ करेंगे Ayushmann Khurrana

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है