Mulayam Singh Yadav के अंतिम दर्शन के लिए उमड़े लोग

0
252

कुछ वक़्त बाद सपा संरक्षक और उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम Mulayam Singh Yadav का आज उनके पैतृक गांव सैफई में अंतिम संस्कार कर दिया जाएगा। सोमवार(10 अक्टूबर) सुबह गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में उनका निधन हो गया था। वह पिछले काफी समय से बीमार चल रहे थे। UP में तीन दिन का राजकीय शोक घोषित कर दिया गया है।

Mulayam Singh Yadav के पार्थिव शरीर को इटावा के सैफई के नुमाइश ग्राउंड में लोगों के अंतिम दर्शन के लिए रखा गया है। उनका अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा। कुछ घंटे के बाद नेता जी कभी किसी को देखने को नहीं मिलेंगे ये सोचकर जनता नेता जी की एक झलक पाने को बेताब है। प्रसपा प्रमुख शिवपाल सिंह यादव, समाजवादी पार्टी के सांसद राम गोपाल यादव, भाजपा सांसद रीता बहुगुणा जोशी और अन्य नेताओं और आम लोगों ने उत्तर प्रदेश के सैफई में दिग्गज राजनेता मुलायम सिंह यादव को अंतिम श्रद्धांजलि दी।

नेताजी के अंतिम दर्शन के लिए देशभर से नेता और उनके प्रशंसक सैफई पहुंच रहे हैं। हवाई पट्टी पर वीवीआईपी के आगमन को लेकर सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। इटावा, औरैया, मैनपुरी समेत कई जिलों का पुलिस बल तैनात किया गया है। वहीं, वायुसेना के जवानों ने हवाई पट्टी की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभाल ली है।

Mulayam Singh Yadav का अंतिम संस्कार चंदन की लकड़ियों से होगा इसके साथ ही उन्हें कन्नौज के फूलों से श्रद्धांजलि दी जाएगी। इत्र नगरी कन्नौज से लकड़ियों और फूलों की खेप लेकर सपा नेता सैफई पहुंच गए हैं। तिर्वा निवासी समाजवादी व्यापार सभा के पूर्व प्रदेश कोषाध्यक्ष अंशुल गुप्ता ने बताया कि उनके पास सैफई से फोन आया था। इसपर उन्होंने डेढ़ कुंतल चंदन की लकड़ियों का इंतजाम किया है। चंदन और फूलों की खेप के साथ वह सोमवार रात से सैफई में डटे हैं। अंशुल का कहना है कि नेताजी का कन्नौज से दिल का रिश्ता है। इसलिए कन्नौज से भी काफी लोग अपने Mulayam Singh Yadav के अंतिम दर्शन के लिए पहुंच रहे हैं।

देर रात तक अपने नेता के अंतिम दर्शन के लिए लोगों का तांता लगा रहा। सीएम योगी भी सैफई कोठी पर पहुंचे और मुलायम सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी सैफई पहुंचकर श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। पीएम मोदी मंगलवार की सुबह Mulayam Singh Yadav का अंतिम दर्शन करने पहुंचेंगे। इसके बाद दोपहर तीन बजे मेला ग्राउंड में नेताजी का अंतिम संस्कार होगा। यह मैदान मुलायम सिंह की कोठी से लगभग 500 मीटर की दूरी पर है।

यह भी पढ़ें – बिन मौसम Baarish बन रही है आफत, Dehli-NCR में आज भी नहीं मिलेगी राहत

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है