अब मिलेगा युवाओं को रोज़गार, CM Yogi करेंगे युवाओं से संवाद

0
143

बेरोज़गार को सिर्फ एक चीज़ की ही तलाश होती है वो है ‘रोज़गार’। महंगाई के इस दौर में हर इंसान नौकरी की तलाश में है। अगर आपको भी जॉब की तलाश है तो तीन अगस्‍त को गोरखपुर के मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (MMMUT) पहुंचना चाहिए। वहां इस दिन रोज़गार मेला आयोजित किया गया है। मेले में नौजवानों का हौसला बढ़ाने खुद CM Yogi Adityanath भी पहुंचेंगे। वह कार्यक्रम में शामिल होने आए युवाओं से बात (संवाद) भी करेंगे।

इस मेले में एक ही स्थान पर एक ही दिन में करीब आठ हजार युवाओं को नौकरी मिलने की उम्‍मीद है। CM Yogi Adityanath अपने पहले कार्यकाल से ही नियमित रोजगार मेला आयोजित करने पर ज़ोर दे रहे हैं। बेरोज़गार युवाओं को चाहिए अपना बायोडाटा अपडेट कर लें और शैक्षणिक प्रमाणपत्रों की फोटोकॉफी करा साक्षात्कार के लिए तैयार हो जाएं। युवाओं का चयन करने के लिए बेंगलुरु, नई दिल्ली, हरियाणा, गुजरात, पंजाब, पुणे, नोएडा, बरेली, लखनऊ, गोरखपुर समेत विभिन्न शहरों की करीब 50 कम्पनियों के प्रतिनिधि मौजूद रहेंगे।

कौशल विकास मिशन के तहत प्रशिक्षण प्राप्त, आईटीआई, डिप्लोमा, जूनियर हाईस्कूल, हाईस्कूल, इंटरमीडिएट, स्नातक, परास्नातक उत्तीर्ण अभ्यर्थी तकनीकी व गैर तकनीकी पदों के लिए अपनी योग्यतानुसार सेवायोजन विभाग के वेब पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन कर वृहद रोजगार मेले में प्रतिभाग कर सकते हैं। राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों की करी गई पहल पर बड़ी कम्पनियों ने सहमति दी है। अडानी ग्रुप, एलएनटी, पेटीएम, ओला, ओप्पो समेत करीब 50 कम्पनियां रोज़गार मेले में युवाओं का चयन करेंगी।

इस मेले में युवाओं का मार्गदर्शन करने CM Yogi Adityanath भी पहुंचेंगे। उनके यहां 10-11 बजे आने की उम्मीद है। CM Yogi Adityanath इस मेले में युवाओं से सीधा संवाद कर न केवल उन्हें रोज़गार के लिए उठाए गए कदमों से अवगत कराएंगे। बल्कि उन्हें स्वरोज़गार के लिए भी प्रेरित करेंगे।

रोज़गार मेला में आइटीआई, कौशल विकास मिशन, पॉलिटेक्निक एवं सेवायोजन विभाग को जिम्मेदारी दी गई है कि अपने छात्रों को रोज़गार मेले तक लाने के लिए साधन उपलब्ध कराएंगे। सीडीओ संजय मीना ने बताया कि 35 से ज्यादा बसें मण्डल के जिलों से आएंगी। रोज़गार मेले में अभ्यर्थियों के लिए जलपान भी उपलब्ध होगा।

काफी संख्या में छात्रों ने सेवायोजन विभाग की वेबसाइट पर ऑनलाइन पंजीकरण करा लिया है। लेकिन ऐसे छात्र जो किन्हीं वजहों से पंजीकरण नहीं कर सकें हैं, उनका ऑन द स्पॉट पंजीकरण किया जाएगा। आयोजन स्थल पर 20 से 25 पंजीकरण काउंटर बनाए जाएंगे। सीडीओ संजय मीना ने इसके लिए आयोजन से जुड़े अधिकारियों को निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें – Delhi में मच्छरों का आतंक, 5 साल बाद Dengue के अधिक केस

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है