काफी वक़्त से Plastic के इस्तेमाल पर रोक लगाई जाने की बात की जा रही है लेकिन पूरी तरह से इसे रोका नहीं जा सकेगा। अब भारत को Single Use Plastic से मुक्त करने और पूरे देश में Plastic के कचरे और उनसे होने वाले खतरे को देखते हुए, केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है।

गुरुवार को केंद्र सरकार ने ऐलान करते हुए कहा कि पूरे देशभर में अगले साल 1 जुलाई 2022 से Single Use Plastic प्रयोग नहीं हो सकेगा, सरकार Single Use Plastic पर प्रतिबंध लगाती है। केंद्र ने एक ड्राफ्ट अधिसूचना जारी की है और बताया कि यह योजना छोटे व्यापारियों को प्रभावित न करे, और साथ ही कचरे से बढ़ते खतरों को देखते हुए 30 सितंबर से पॉलिथीन की थैलियों की मोटाई 50 माइक्रोन से बढ़ाकर 120 माइक्रोन करने का फैसला लिया है। अभी भी देश में 50 माइक्रोन से कम के पॉलिथीन बैग पर बैन है।

अगले साल 15 अगस्त 2022 आजादी के दिन तक पूरे देश में प्रयोग होने वाली Plastic वस्तुओं का निर्माण, आयात, भंडारण, वितरण, बिक्री और उपयोग नियमों के तहत बैन होगा। Single Use Plastic को दो चरणों में बैन किया जाएगा। पहले चरण की शुरूआत जनवरी 2022 से होगी इस चरण में कुछ प्लास्टिक की चीजें जैसे Plastic के झंडे, गुब्बारे और कैंडी स्टिक बैन होंगी और फिर एक जुलाई 2022 से प्लेट, कप, ग्लास, कटलरी जैसे कांटे, चम्मच, चाकू, पुआल, ट्रे, रैपिंग, पैकिंग फिल्म्स, निमंत्रण कार्ड, सिगरेट के पैकेट आदि चीजों पर प्लास्टिक बैन लगेगा।

यह भी पढ़ें: चीन में Delta Variant का तांडव, लोगों को घरों में किया जा रहा लॉक

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है