अब Sharaab के नशे में पकड़े जाने पर देना होगा जुर्माना,वरना जाना होगा जेल

0
160

Sharaab(शराब) पीना या न पीना आपकी मर्ज़ी होती है लेकिन अब इस मर्ज़ी पर सरकार लगाम लगाने जा रही है। बिहार में पहली बार Sharaab के नशे में या पीते हुए पकड़े गये तो कम से कम 2000 तथा अधिकतम 5000 रुपये का जुर्माना लगेगा। अगर वह व्यक्ति जुर्माने की राशि नहीं दे सकेगा तो उनको 30 दिनों का कारावास होगा। दंड देकर छूट जाना अभियुक्त का अधिकार नहीं होगा।

Sharaab के शौकीन लोगों को अब सावधान रहना होगा। सज़ा होने पर अगर अभियुक्त पुलिस के साथ सहयोग नहीं करेंगा तो कार्यपालक दंडाधिकारी उसे अर्थदंड न लगाकर 30 दिनों का कारावास भी दे सकते हैं। दूसरी बार अगर पकड़े जाते हैं तो अर्थदंड नहीं लगाकर अनिवार्य रूप से एक साल के कारावास की सज़ा होगी। इसको लेकर बिहार मद्यनिषेध और उत्पाद (संशोधन) नियमावली, 2022 की कैबिनेट ने स्वीकृति दे दी।

मुख्यमंत्री Nitish Kumar की अध्यक्षता में सोमवार(4 अप्रैल) को हुई राज्य कैबिनेट की बैठक में 14 प्रस्तावों पर स्वीकृति दी गई। बैठक के बाद कैबिनेट के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने कहा कि पटना उच्च न्यायालय से विभाग ने अनुरोध किया है कि द्वितीय श्रेणी के न्यायिक दंडाधिकारी का अधिकार कार्यपालक दंडाधिकारी को दिए जायें। उच्च न्यायलय से यह शक्ति प्रदान करने की अनुमति मिलने के बाद कार्यपालक दंडाधिकारी के द्वारा इसका कार्यान्वयन किया जा सकेगा।

यह भी पढ़ें – अब कर्नाटक में उठने लगी मस्जिद के Loudspeaker पर प्रतिबंध की मांग

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है