National Education Day 2022: जानें आज ही के दिन क्यों मनाया जाता है Education Day

0
656

दिन तो सभी ख़ास होते हैं लेकिन 11 नवंबर देश के इतिहास में महत्वपूर्ण तिथियों में दर्ज है। दरअसल, आज के दिन राष्ट्रीय शिक्षा दिवस (National Education Day 2022) मनाया जाता है। भारत के First Education Minister Maulana Abul Kalam Azad की जयंती के दिन इस दिवस को मनाया जाता है।

Maulana Abul Kalam Azad एक बड़े स्वतंत्रता सेनानी, विद्वान और प्रख्यात शिक्षाविद् थे। उन्होंने AICTE और AICTE जैसे प्रमुख शिक्षा निकायों की स्थापना में प्रमुख भूमिका निभाई थी। इसी उपलक्ष्य में भारत के मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने सितंबर 2008 में Maulana Abul Kalam Azad के जन्मदिन को ‘National Education Day’ के रूप में मनाने की घोषणा की।

Maulana Abul Kalam Azad पंडित जवाहर लाल नेहरु सरकार में पहले शिक्षा मंत्री थे। आधुनिक शिक्षा पद्धति देश के पहले शिक्षा मंत्री की ही देन है। उन्होंने 1947 से 1958 तक शिक्षा मंत्री के रूप में कार्य किया। समाज सुधारक, स्वतंत्रता सैनानी और विद्वान का जन्म 11 नवंबर 1888 को हुआ था।

देश में शिक्षा के स्तर को ऊपर उठाने में Maulana Azad का बहुमूल्य योगदान है। Maulana Azad का मानना था कि एक शिक्षित समाज से ही राष्ट्र का निर्माण संभव है। उनके शिक्षा के क्षेत्र में अमूल्य योगदान के कारण यह घोषणा की गई।

National Education Day का अवकाश नहीं रखा गया है। इस दिन स्कूलों में सेमिनार, निबंध प्रतियोगिता, रैली आदि होती हैं। उन्होंने शिक्षा के लिए आईआईटी, यूजीसी आदि शिक्षा की महत्वपूर्ण संस्थानों का निर्माण किया। Maulana Azad द्वारा पूर्व में बनाई गई शिक्षा नीति और सिद्धांत वर्तमान समय में प्रासंगिक है।

यह भी पढ़ें – World Heart Day 2022: भारत में हर पांचवा व्यक्ति है दिल का मरीज़

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है