वोटर लिस्‍ट में नहीं मिला अपना नाम, Munawwar Rana बोले- ये सुशासन नहीं कुशासन है

0
212

UP विधानसभा चुनाव 2022 में चौथे चरण के मतदान के लिए वोट डाले जा रहे हैं। इस बीच लखनऊ में रहने वाले मशहूर शायर Munawwar Rana को वोटर लिस्‍ट में अपना नाम नहीं मिला। इस पर Munawwar Rana ने कुछ यूं अपना दर्द बयां किया। उन्‍होंने कहा-‘जब हुकूमत खुद वोट देने का मौका नहीं दे रही है तो दुख किस बात का है। यह चुनाव मुद्दों पर नहीं हो रहा है। हिन्‍दुस्‍तान की सबसे बड़ी पार्टी मजहब और धर्म के नाम पर चुनाव करा रही है।’

अपने बयानों को लेकर अक्‍सर सुर्खियों में रहने वाले Munawwar Rana ने यूपी चुनाव पर बोलते हुए कहा कि जिन मुद्दो पर चुनाव होना चाहिए था वो नहीं हुआ। खासतौर पर भाजपा यह लड़ाई उन मुद्दों पर नहीं लड़ रही है जिन पर उसे जवाब देना पड़ता। इसके बदले वे मुद्दे चुने जा रहे हैं जिन पर वो जवाब मांगती है। BJP बहकावे पर चुनाव लड़ रही है। उन्‍होंने कहा कि पहले इलेक्‍शन आदमी बेस पर होता था लेकिन अब पार्टी बेस पर होता है।

देश में जो रहता है उसे वोट डालने का पूरा हक़ होता है लेकिन जब किसी को वोट ही नहीं देने दिया जाए तो तकलीफ होना लाज़मी है। Munawwar Rana ने कहा- ‘जहां रहता हूं उसके बराबर में ही पोलिंग बूथ है। मेरी खुशनसीबी है। मेरे लिए बगल में वोट डालना आसान था। लेकिन जब कल यहां के सभासद से मैंने पर्ची मांगी तो पता चला कि मेरा वोट ही नहीं है। वोटर लिस्‍ट में नाम ही नहीं है। सिर्फ मेरी पत्‍नी का नाम है। उनको पर्ची मिल गई थी।’ शायर ने कहा कि जाहिर सी बात है कि इसमें क्‍या कर सकते हैं। उन्‍होंने कहा कि पिछले चुनाव के वक्‍त मेरा वोट था। मैं यह आरोप नहीं लगाऊंगा कि मेरा वोट जानबूझकर काटा गया लेकिन इससे यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि ये सुशासन नहीं कुशासन है। इसे बदइंतजामी ही कहेंगे कि हमारी पर्ची हमारे पास नहीं आई और हम वोट नहीं डाल पाए।

यह भी पढ़ें – Maharashtra : मनी लॉन्ड्रिंग केस में मंत्री Nawab Malik गिरफ़्तार

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है