सांसद Pragya Thakur का बयान, साधु-संतों का ध्यान भंग करती है ‘अज़ान’

0
161

इंसान आम हो या ख़ास लेकिन उसकी सोच उसकी बातों से ही पता चलती है। भाजपा की भोपाल से सांसद साध्वी Pragya Singh Thakur ने एक बार फिर विवादास्पद बयान देकर राजनीतिक माहौल में गरमाहट ला दी है। इस बार नमाज़ों से पहले होने वाली अज़ान के शोर पर आपत्ति जताई है और कहा कि इससे न केवल साधु-संतों का ध्यान भंग होता है बल्कि मरीजों को भी परेशानी होती है।

सांसद Pragya Thakur हाल ही में अपने बयानों के लिए चर्चा में रही हैं। मंगलवार(9 नवंबर) की रात को Pragya Thakur ने राममंदिर के एक कार्यक्रम में अपने संबोधन में अज़ान के शोर पर अप्रत्यक्ष रूप से हमला किया। Pragya Thakur ने कहा कि सुबह पांच बजे के आसपास तेज आवाजें आने लगती हैं। इससे तमाम बीमारियों के मरीजों की नींद खुल जाती है और उन्हें तकलीफ होती है। सुबह ब्रह्म मुहूर्त में साधु-संतों का साधना का समय भी होता है और आरती भी उसी दौरान होती है। इसके बाद भी सुबह सुबह तेज आवाजें आती रहती हैं।

Pragya Thakur ने कहा कि भारत सनातन देश है। दूसरे देश के जन्म हुए हैं और हमारा देश को किसी ने नहीं जन्माया है। हमारा कभी मरण नहीं होगा जबकि जो भी देश जन्में हैं उनका अंत निश्चित है। मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम की हम संतानें हैं। कांग्रेस पर हमला बोलते हुए उन्होंने फिर कहा कि अदालत में श्रीराम के अस्तित्व को झुठलाने के प्रयास किए हैं। सांसद ने कहा कि लाउडस्पीकर पर सुबह सुबह शोर उचित नहीं है। Pragya Thakur ने यह भी कहा जब हम लाउड स्पीकर लगा लेते हैं कि विधर्मियों को आपत्ति होने लगती है। इस्लाम में दूसरे धर्म की आवाज सुनने को जायज नहीं माने जाने की बातें की जानी लगती हैं।

यह भी पढ़ें – Bigg Boss 15 : अचानक बिगड़ी Raqesh Bapat की तबियत, होना पड़ा एडमिट

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है