1 अप्रैल से नए श्रम कानून को लागू करने की Modi सरकार की तैयारी पूरी

किसी भी चीज़ में बदलाव या तो अच्छी खबर लाता है या बुरी। 1 अप्रैल से Modi सरकार कर्मचारियों के लिए नए नियम लागू  करने जा रही है जिसका असर आपकी Salary, PF और Gratuity पर पड़ेगा। श्रम एवं रोजगार मंत्रालय ने चार श्रम संहिता के तहत नियमों को अंतिम रूप दे दिया है।

1 अप्रैल, 2021 से नए श्रम कानून को लागू करने की तैयारी है। विशेषज्ञों का कहना है कि नए श्रम कानून लागू होने पर कंपनियों को अपने सीटीसी (कॉस्ट टू कंपनी) और दिए जाने वाले भत्ते में बदलाव करने होंगे। ऐसा इसलिए कि नए कानून के अनुसार, किसी कर्मचारी के भत्ते, कुल वेतन के 50 फीसदी से अधिक नहीं हो सकते।

माना जा रहा है कि नया श्रम कानून आने के बाद सैलरी स्ट्रक्चर में बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा। इसका मतलब यह होगा कि कर्मचारियों के In-hand Salary में कटौती हो सकती है। वहीं, दूसरी ओर भविष्य निधि (पीएफ) जैसी सामाजिक सुरक्षा योजना के नाम पर होने वाली कटौती बढ़ जाएगी।

इस नियम का पालन करने के लिए नियोक्ताओं को अपने कर्मचारियों के मूल वेतन को 50 फीसदी तक बढ़ाना होगा। कुल वेतन के 50% तक भत्ते को सीमित करने से स्टाफ की Gratuity पर नियोक्ता का भुगतान भी बढ़ेगा, जो किसी कंपनी में 5 साल से अधिक समय तक काम करने वाले स्टाफ को दिया जाता है। इससे कर्मचारियों को Retirement पर पहले की तुलना में ज्यादा लाभ मिलेगा।

यह भी पढ़ें: केरल में सत्ता तक पहुंचने के लिए Congress को करना होगा ये काम

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है