Mamata Banerjee में दार्जीलिंग जाकर यूं ही नहीं बनाए Momos, इसके पीछे है सियासी मायने

0
334

आज कल युवा हों या बड़े सभी को Momos बहुत पसंद आते हैं ऐसे में पश्चिम बंगाल की CM Mamata Banerjee ने  Momos बनाना शुरू कर दिया है। CM Mamata Banerjee अपने अनूठे अंदाज़ के लिए जानी जाती हैं। कई बार वे पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ हल्के फुल्के मूड में नज़र आती हैं तो कई बार वे फुटबॉल को किक मारती नज़र आती हैं। हाल ही में उनका दार्जिलिंग से एक वीडियो सामने आया है जहां एक वे एक स्थानीय स्टॉल पर बैठकर Momos तैयार करती हुई नज़र आई हैं।

इन दिनों एक वीडियो को शेयर किया गया है। इसमें लिखा गया है कि पश्चिम बंगाल की CM Mamata Banerjee ने आज दार्जिलिंग में एक स्थानीय स्टॉल पर Momos तैयार करने में मदद की और अपने इस कौशल का भी प्रदर्शन किया। वीडियो में दिख रहा है कि ममता एक स्थानीय Momos स्टाल के अंदर पहुंचकर Momos बनाने में मदद करने लगती हैं।

वीडियो में यह भी दिख रहा है कि वहां पहले से ही दो महिलाएं मौजूद हैं और Momos तैयार कर रही हैं। ठीक इसी दौरान CM Mamata Banerjee भी वहीं पहुंच जाती हैं और Momos तैयार करने लगती हैं। किसी ने इसका वीडियो भी बना लिया। अब यह वायरल हो रहा है।

पश्चिम बंगाल पर नज़र रखने वाले सियासी जानकार कहते हैं कि ममता की इस रणनीति को समझने के लिए चुनावी आंकड़े भी समझना जरूरी है। दार्जिलिंग कभी भी टीएमसी का गढ़ नहीं रहा। यहां पिछले कई सालों से भाजपा का दबदबा रहा है। ऐसे में पंचायत चुनाव और उसके बाद लोकसभा चुनाव हैं। अभी टीएमसी की मुख्य रणनीति उत्तर बंगाल में पार्टी का दबदबा कायम करने की है। CM Mamata Banerjee को पता है दार्जिलिंग में Momos और फुचका बेहद पसंद किया जाता है।

यह पहला मौका नहीं है जब CM Mamata Banerjee ऐसा काम कर रही हैं। हाल ही में वे एक स्टॉल पर लोगों को फुचका खिलाती नज़र आई थीं। दिलचस्प बात यह भी है कि पिछले साल भी CM Mamata Banerjee ने दार्जिलिंग दौरे पर लोगों को Momos बनाकर खिलाया था और इस साल फुचका के स्टाल पर भी पहुंच गईं थी। उन्होंने ना सिर्फ फुचका बनाया बल्कि लोगों को खिलाया भी।

यह भी पढ़ें – Kanwar Yatra 2022: कांवड़ियों की सुरक्षा के लिए इन वाहनों की एंट्री बंद, कई जगह रूट डायवर्जन

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है