राज्यसभा में गुलाम नबी आजाद के बाद Mallikarjun Kharge होंगे विपक्ष के नेता

हर चीज़ का बदलाव होना तय है। Rajya Sabha में विपक्ष के नेता Ghulam Nabi Azad का कार्यकाल खत्म होने के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेता और लोकसभा में Congress के नेता रहे Mallikarjun Kharge को विपक्ष का नेता नामित किया गया है। संगठन के महासचिव वेणुगोपाल ने इस बात की जानकारी देते हुए कहा कि कांग्रेस ने Rajya Sabha के सभापति वैंकेया नायडू को इस बारे में जानकारी दी है कि आजाद के रिटायर होने के बाद अब खड़गे पार्टी की तरफ से नामित किए गए हैं।

Congress ने Mallikarjun Kharge को राज्यसभा में नेता विपक्ष बनाने का फैसला लिया है। बता दें कि इसी सप्ताह पार्टी के सीनियर नेता गुलाम नबी आजाद राज्यसभा से रिटायर हुए हैं। सदन में 4 दशकों से लंबे करियर के समापन के बाद राज्यसभा में नेता विपक्ष का पद खाली था, जिसे पार्टी ने Mallikarjun Kharge के तौर पर भरने का फैसला लिया है।

गुजरात के पर्यटकों की एक बस पर 2006 में जम्मू-कश्मीर में हुए आतंकी हमले के बारे में बात करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी भावुक हो गए थे। उन्होंने कहा कि उस दौरान गुलाम नबी आजाद ने पूरी मदद की और हमले को लेकर बेहद भावुक हो गए थे और चिल्लाकर रोने लगे थे। बता दें कि 2014 में Mallikarjun Kharge को Congress ने लोकसभा में पार्टी का नेता घोषित किया था। लेकिन 2019 के आम चुनाव में वह गुलबर्गा सीट से बीजेपी कैंडिडेट के मुकाबले हार गए थे। इसके बाद जून 2020 में कांग्रेस ने उन्हें राज्यसभा भेजा था। फिलहाल लोकसभा में पार्टी की ओर से नेता विपक्ष की कमान पश्चिम बंगाल से आने वाले नेता अधीर रंजन चौधरी को दी गई है।

यह भी पढ़ें: Rahul Gandhi ने बिना अनुमति के रखवाया 2 मिनट का मौन

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है