Gujarat में शराबबंदी, फिर भी Sharaab पीने की वजह से हो रही मौतें : AAP

0
223

अक्सर आपने सुना होगा कि इस जगह Sharaab (शराब) बंद है लेकिन बावजूद इसके उस जगह Sharaab मिल भी जाती है और लोग ख़राब Sharaab पीकर मर भी रहे हैं इससे क्या साबित होता है… यही सवाल अब लोगों के ज़हन में घूमने लगा है। Gujarat में बोटाद जिले के रोजिद गांव में ज़हरीली Sharaab पीने से मरने वालों की संख्या जहां 28 तक पहुंच गई है, वहीं घटना को लेकर अब राजनीतिक गलियारों में भी शोर सुनाई देने लगा है।

साल के आख़िर में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले हुई इस घटना को लेकर आम आदमी पार्टी सूबे की भूपेन्द्र पटेल सरकार को घेरने में जुट गई है। मंगलवार(26 जुलाई) को Gujarat पहुंचे Delhi के CM Arvind Kejriwal ने जहां मामले को लेकर सवाल उठाए, वहीं पार्टी प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने दावा किया कि बीते 15 सालों में 845 लोगों की ज़हरीली Sharaab पीने की वजह से मौत हो चुकी है।

Gujarat के राजकोट पहुंचे Delhi के CM Arvind Kejriwal ने कहा, ‘मेरे संज्ञान में एक बहुत ही दुखद घटना आई है कि भावनगर में ज़हरीली Sharaab पीने से 25 से अधिक लोगों की मौत हो गई है और कई अन्य लोग अस्पतालों में भर्ती हैं। मैं उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।’ CM Kejriwal ने आगे सवाल उठाते हुए कहा कि अगर गुजरात ड्राई स्टेट है तो राज्य में खुलेआम Sharaab कैसे बिक रही है और इससे किसे फायदा हो रहा है? उन्होंने कहा कि Gujarat में यह पहली बार नहीं है, जब ज़हरीली शराब से लोगों की मौत हुई हो। उन्होंने कहा कि आखिर सरकार इस पर ध्यान क्यों नहीं दे रही है।

दूसरी ओर Delhi में AAP से विधायक और पार्टी प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने दावा किया कि Gujarat ड्राई स्टेट है, फिर भी 15 साल में 845 से ज्यादा लोगों की ज़हरीली Sharaab पीने से मौत हो चुकी है। सौरभ ने सवाल उठाते हुए कहा, ‘इतना बड़ा ऑर्गनाइज्ड नेटवर्क किन राजनेताओं के संरक्षण में चल रहा है? Sharaab बंदी से सरकार को 15,000 करोड़ का नुकसान हो रहा है लेकिन Sharaab तो खुलेआम बिक रही है। तो ये पैसा किसकी जेब में जा रहा है?’

सौरभ भारद्वाज ने कहा, ‘कुछ लोग चाहते हैं गुजरात की तरह दिल्ली में भी नक़ली और ज़हरीली Sharaab का कारोबार चले। जब से दिल्ली सरकार नई एक्साइज पॉलिसी लाई है, ये लोग बहुत परेशान हैं। ये लीगल दुकानें हटाकर वही पुराना धंधा शुरू करना चाहते हैं।’ वहीं आम आदमी पार्टी से राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा कि Gujarat में 27 से अधिक लोगों की जान नहीं गई, उनकी हत्या की गई है। Gujarat की भाजपा सरकार के नेतृत्व में नक़ली Sharaab का धंधा चल रहा है। भाजपाइयों को इसमें करोड़ों रुपए की रिश्वत मिलती है। उन्होंने कहा कि यही नक़ली शराब का धंधा ये लोग दिल्ली में करना चाहते हैं। Gujarat के मुख्यमंत्री को इस्तीफा देना चाहिए।

यह भी पढ़ें – बिहार के CM Nitish Kumar हुए Corona पॉज़िटिव

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है