इस तरह पहचाने की बाज़ार से लाया हुआ मावा असली है या नकली

हर बार त्यौहार आने से पहले ही खोये में मिलावट होने की ख़बरें सुनने में आने लग जाती हैं और आप भी कई बार नकली खोया खरीद कर घर ले आते हैं। जिससे आपके साथ साथ आपके घरवाले भी बीमार पड़ जाते हैं। आपकी ज़रा सी समझदारी आपको नकली और असली खोये की पहचान करा सकती है। बस आपको कुछ बातों का ध्यान देना होगा।

त्योहारों का सीजन शुरू हो चुका है। कुछ ही दिनों में दिवाली, भैया दूज भी आने वाले हैं। ऐसे में हर उत्सव का मजा दोगुना करने और रिश्तों में मिठास घोलने के लिए लोग घर पर ही कई तरह की मिठाइयां बनाते हैं। अधिकांश मिठाइयां खोये से बनाई जाती हैं। लेकिन मिठाई बनाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाला खोया अगर नकली हो तो न सिर्फ त्योहार का मज़ा ख़राब हो जाता है बल्कि सेहत को भी काफी नुकसान होता है। अगर आप भी नकली खोया खरीदने और सेहत को होने वाले नुकसान से बचना चाहते हैं तो खोया खरीदते समय इन बातों को ज़रूर ध्यान में रखें।

खोया ख़रीदते वक़्त इन बातों का रखें ध्यान

  • असली खोया सफेद रंग का और नकली हल्का पीले रंग का होता है।
  • खोया पहचानने का सबसे आसान तरीका है कि यह ध्यान रखें कि असली खोया मुलायम और नकली खोया दरदरा होता है।
  • खोये में थोड़ी चीनी डालकर गरम करें। अगर ये पानी छोड़ने लगे तो यह नकली खोया है।
  • असली खोया पानी में जल्दी घुल जाता है जबकि नकली खोया पानी में जल्दी नहीं घुलता।
  • खोये को अपने अंगूठे के नाखून पर रगड़ें। अगर यह असली है तो इसमें से घी की महक आएगी।
  • खोये को खरीदने से पहले थोड़ा सा खोया खाकर देखें, खोया अगर असली होगा तो मुंह में चिपकेगा नहीं जबकि नकली खोया चिपक जाएगा।
  • नकली खोये का पता लगाने के लिए उसे पानी में डालकर फेंटने से वह दानेदार टुकडों में अलग हो जाएगा।
  • असली खोया चिपचिपा नहीं होता बल्कि नकली खोया चिपचिपा होता है।
  • असली खोये को खाने पर कच्चे दूध जैसा स्वाद आएगा। जबकि नकली मावा चखने पर स्वाद में कसैला होता है
  • हथेली पर खोये को लेकर उसकी गोली बनाएं। अगर यह फटने लग जाए तो समझ जाएं कि खोया नकली है या फिर इसमें मिलावट की गई है।

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है