यूपी में लव जिहाद से जुड़ा धर्मांतरण कानून पास होने के बाद इस पर खूब चर्चा हुई। लेकिन अब एक और बीजेपी शासित राज्य ने लव जिहाद से जुड़े कानून को मंजूरी दे दी है। दरअसल यूपी के बाद अब मध्यप्रदेश कैबिनेट ने भी ऐसे ही एक कानून को मंजूरी दे दी है। एमपी कैबिनेट ने धर्म स्वातंत्र्य विधेयक 2020 को मंजूरी दे दी है.जिसमें 19 प्रावधान हैं।

धर्म स्वातंत्र्य विधेयक के एमपी कैबिनेट की मंजूरी

धर्म परिवर्तन से जुड़े मामले में अगर पीड़ित पक्ष के परिजन शिकायत दर्ज कराते हैं तो पुलिस उनके खिलाफ कार्रवाई करेगी कोई नाबालिग, SC/ST वर्ग की बेटियों से बहला-फुसलाकर शादी करता है और दोषी पाया जाता है तो 2 से 10 साल तक की सजा दी जाएगी धन और संपत्ति का लालच देकर, किसी तरह का प्रलोभन देकर अथवा धर्म छिपाकर शादी की जाती है तो ऐसी शादी को माना नहीं जाएगा

यूपी में नवंबर में पास हुआ था कानून

बता दें कि यूपी सरकार ने पिछले महीने ही लव जिहाद पर कानून बना दिया है। जिसमें धोखे से धर्म बदलवाने पर 10 साल की सजा का प्रावधान है। इतना ही नहीं अगर किसी को धर्म बदलवाना है तो डीएम को दो महीने पहले जानकारी देनी होगी

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है