नाम गुम जाएगा… गाने वाली Lata Mangeshkar का नाम कभी गुम नहीं होगा, उनके नाम पर खुलेगा वृद्धाश्रम

0
190

जो इस दुनिया से चला जाता है एक न एक दिन उसका नाम लोग भूल ही जाते हैं। शायद इसलिए ही सिंगर Lata Mangeshkar को नाम गुम जाएगा, चेहरा ये बदल जायेगा, मेरी आवाज़ ही पहचान है, गर याद रहे… गाना बेहद पसंद था लेकिन ये दुनिया उनका नाम शायद कभी न भूले। Lata Mangeshkar हमेशा यही चाहती थीं कि लोग हमेशा उनको याद रखें इसलिए उनका एक सपना अब पूरा होने जा रहा है।

भारत की स्वर्ण कोकिला Lata Mangeshkar इसी साल हम सभी को छोड़कर चली गईं। Lata Mangeshkar भले ही चली गई हैं, लेकिन वह अपने गानों के ज़रिए हमेशा हमारे दिलों में जिंदा रहेंगी। Lata Mangeshkar जब ज़िंदा थीं तब वह कई बार म्यूजिक इंडस्ट्री या देश में आई हर आपदा में मदद के लिए आगे रहती थीं। अब भले ही वह नहीं रहीं, लेकिन दूसरों की मदद वह अब भी कर रही हैं। दरअसल, मंगलवार देर रात को Lata Mangeshkar के इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक पोस्ट हुआ। इस पोस्ट के जरिए बताया गया कि Lata Mangeshkar के एक सपने को पूरा किया जा रहा है।

पोस्ट में Lata Mangeshkar की फोटो शेयर की है और लिखा है, ‘स्वर मौली भारत की स्वर कोकिला Lata Mangeshkar का ड्रीम प्रोजेक्ट था। यह एक वृद्धाश्रम है, स्पेशयली उनके लिए जो म्यूजिक या आर्ट, सिनेमा और थिएटर के लोग हैं।’ ‘इस फाउंडेशन का अहम मुद्दा है कि उन आर्टिस्ट को घर देना जो अपनी जिंदगी में काफी मुश्किलें झेल रहे हैं। स्वर मौली फाउंडेशन धर्मनिरपेक्ष और गैर लाभकारी संगठन है।’

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Lata Mangeshkar (@lata_mangeshkar)

फैंस इस पोस्ट के ज़रिए Lata Mangeshkar के बड़े दिल की तारीफ कर रहे हैं। किसी ने कमेंट किया है, ‘म्यूजिक इंडस्ट्री को लेकर आपकी जो सेवा है वह आपके जाने के बाद भी जारी है। यही वजह है कि आपको पूजा जाता है दीदी। लव यू।’ तो किसी ने लिखा, ‘आप हम सबके लिए मां जैसी थीं और आगे भी रहेंगी।’

यह भी पढ़ें – मौसम ने ली करवट, Delhi-NCR में हुई झमाझम Baarish

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है