Chara Ghotala : Lalu Prasad Yadav को नहीं मिली रिहाई, CBI Court ने सुनाई 5 साल की सज़ा

0
209

राजद सुप्रीमो Lalu Prasad Yadav को जेल से छुटकारा नहीं मिल पा रहा है। ऐसा लगता है सलाखों ने उनके जीवन को ही अपनी गिरफ़्त में ले लिया है। Lalu Prasad Yadav को चारा घोटाले के डोरंडा कोषागार से 139.35 करोड़ की अवैध निकासी के मामले में पांच साल की सज़ा सुनाई गई है।

स्पेशल कोर्ट के जज एसके शशि ने यह फैसला सुनाया। उनपर 60 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है। Lalu Yadav के वकील ने बताया कि आगे बेल के लिए अर्जी दी जाएगी। लेकिन बेल नहीं मिलने तक Lalu Yadav को जेल में ही रहना पड़ेगा। इस मामले में दोषी पाए गए अन्य 37 लोगों को सज़ा सुनाई जा रही है। Lalu Prasad Yadav समेत 38 अन्य आरोपियों को 15 फरवरी को दोषी करार दिया गया था। इसके बाद Lalu Prasad Yadav को जेल भेज दिया गया था। बेहतर इलाज के लिए Lalu Prasad Yadav को जेल प्रशासन ने रिम्स भेज दिया था। Lalu Yadav रिम्स से ही ऑनलाइन कोर्ट से जुड़े थे।

सज़ा सुनाने के पहले CBI की ओर से सभी दोषियों को अधिकतम सज़ा देने का आग्रह किया गया। जबकि बचाव पक्ष ने कम से कम सज़ा देने का आग्रह किया। रांची सिविल कोर्ट परिसर में बड़ी संख्या में राजद के नेता और कार्यकर्ता बिहार से भी पहुंचे हैं। इनमें अब्दुल बारी सिद्दिकी, पूर्व मंत्री श्याम रजक भी शामिल हैं। राष्ट्रीय जनता दल के नेताओं ने CBI की विशेष अदालत द्वारा चारा घोटाला के डोरंडा कोषागार मामले में सज़ा सुनाए जाने का स्वागत किया।

यह भी पढ़ें – बेटे के बर्थडे पर Kareena Kapoor ने फोटो शेयर करते हुए कही ये बात

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है