इस तारीख़ तक घर आ जाएगा भारत का आखिरी Rafale लड़ाकू विमान

0
148

लम्बे इंतज़ार के बाद भारत का आख़िरी Rafale लड़ाकू विमान भी घर आने वाला है। फ्रांस से अब तक 35 Rafale लड़ाकू विमान भारत को मिल चुके हैं। भारत और फ्रांस के बीच 2016 में 36 Rafale विमान के लिए 60,000 करोड़ रुपये से अधिक में डील हुई थी। अब भारत 15 दिसंबर तक फ्रांस से अपना 36वां और अंतिम Rafale लड़ाकू जेट प्राप्त करेगा।

वरिष्ठ रक्षा अधिकारियों ने समाचार एजेंसी को बताया, “आखिरी विमान 15 दिसंबर के आसपास भारत पहुंचेगा।” उन्होंने कहा कि विमान को भारतीय परिस्थितियों के अनुकूल तैयार किया गया है। बता दें कि भारत ने 36 विमानों के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे और उनमें से 35 पहले ही आ चुके हैं। भारत आ चुके Rafale विमानों में कुछ अंबाला (हरियाणा) और हाशिमारा (पश्चिम बंगाल) में तैनात हैं।

अधिकारियों ने कहा कि आरबी टेल नंबर वाला 36वां विमान फ्रांस द्वारा भारतीय पक्ष को दे दिया जाएगा। भारत को सौंपने से पहले इस विमान के सभी पुर्जों और अन्य भागों को बदला गया है क्योंकि इससे पहले इस जेट को डेवलपमेंटल एक्टिविटीज के लिए इस्तेमाल किया जा रहा था। इस बीच, भारतीय वायु सेना ने भी विमानों को उच्चतम मानकों पर अपग्रेड करना शुरू कर दिया है और सभी भारत-विशिष्ट संवर्द्धन से लैस हैं।

Rafale 4.5 पीढ़ी का विमान है। राफेल ने भारत को एडवांस रडार और इलेक्ट्रॉनिक युद्ध क्षमताएं हासिल करने में मदद की है। इसके अलावा लंबी दूरी की हवा से हवा और हवा से जमीन पर मार करने वाली मिसाइलों के साथ Rafale ने भारत को आसमान पर अपना वर्चस्व हासिल करने में मदद की है। फ्रांसीसी फर्म डसॉल्ट एविएशन विमान के रखरखाव में भी शामिल है जिसकी सेवाक्षमता 75 प्रतिशत से अधिक है। Rafale को चीन के साथ संभावित युद्ध की स्थिति में भारतीय वायु सेना में तेजी से शामिल किया गया था और देश में आने के एक सप्ताह के भीतर इसने लद्दाख में काम करना शुरू कर दिया था।

यह भी पढ़ें – Pregnant महिलाओं को अब नहीं होगी परेशानी, UP सरकार ने उठाया बड़ा कदम

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है