नए युग की होने वाली है शुरुआत,भारत का First Private Rocket लॉन्चिंग को तैयार

0
145

आसमान में न जाने कितने ही Rocket गुज़रे होंगे लेकिन इस बार भारत का First Private Rocket आसमान में गुज़रता हुआ नज़र आएगा। ये ख़बर हर भारतीय के लिए बेहद ख़ास है। भारत का First Private Rocket विक्रम-एस 12 नवंबर से 16 नवंबर के बीच लॉन्च के लिए तैयार है। हैदराबाद स्थित अंतरिक्ष स्टार्टअप स्काईरूट एयरोस्पेस ने मंगलवार(8 नवंबर) को यह घोषणा की।

Skyroot Aerospace का पहला मिशन, जिसका नाम ‘प्रारंभ’ है, तीन लोगों को ले जाएगा। इसे श्रीहरिकोटा में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के लॉन्चपैड से लॉन्च किया जाएगा। Skyroot Aerospace के सीईओ और सह-संस्थापक पवन कुमार चंदना ने कहा, “अधिकारियों ने 12 नवंबर से 16 नवंबर के बीच लॉन्च विंडो को नोटिफाई किया है। मौसम की स्थिति के आधार पर अंतिम तारीख तय की जाएगी।”

इस मिशन के साथ ही, Skyroot Aerospace भारत की पहली प्राइवेट कंपनी बन जाएगी जिसने अंतरिक्ष में रॉकेट लॉन्च किया हो। इसे एक नए युग की भी शुरुआत माना जा रहा है और इसे साल 2020 में प्राइवेट सेक्टर के लिए खोला गया था। Skyroot Aerospace के सीईओ नागा भरत डाका ने कहा, “विक्रम-एस रॉकेट एक सिंगल-स्टेज सब-ऑर्बिटल लॉन्च व्हीकल है जो तीन लोगों को ले जाएगा और अंतरिक्ष लॉन्च वाहनों की विक्रम श्रृंखला में अधिकांश तकनीकों का परीक्षण और सत्यापन करने में मदद करेगा।”

Indian space program के संस्थापक और प्रसिद्ध वैज्ञानिक विक्रम साराभाई को श्रद्धांजलि के रूप में स्काईरूट के लॉन्च वाहनों का नाम ‘विक्रम’ रखा गया है। हैदराबाद में स्थित, स्काईरूट अंतरिक्ष में कमर्शियल सैटेलाइट्स को लॉन्च करने के लिए अत्याधुनिक अंतरिक्ष लॉन्च व्हीकल बनाता है। चंदना ने कहा कि इसरो और IN-SPACe (इंडियन नेशनल स्पेस प्रमोशन एंड ऑथराइजेशन सेंटर) के अमूल्य समर्थन के कारण ही स्काईरूट इतने कम समय में विक्रम-एस रॉकेट मिशन को तैयार कर सका।

यह भी पढ़ें – सावधान! Agniveer Bharti के नाम पर युवाओं से करोड़ों की ठगी

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है