महिलाएं किसी से कम नहीं हैं ये एक बार फिर से साबित हो गया है। जापान की राजधानी टोक्यो में खेले जा रहे Olympic खेलों में Indian Women Hockey Team ने इतिहास रच दिया है। टीम ने क्वार्टर फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया को 1-0 से हराकर पहली बार सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली है।

Indian Women Hockey Team ने शानदार खेल दिखाते हुए ऑस्ट्रेलिया 1-0 से मात दे दी है। ये पहला मौका है जब Women Hockey Team Olympic के सेमीफाइनल में पहुंची है। भारत की तरफ से एकमात्र गोल गुरजीत कौर ने दागा। भारतीय टीम पूरे मैच में कंगारू टीम पर हावी रही और लगातार अटैकिंग गेम को जारी रखा। कप्तान रानी रामपाल की अगुवाई में Indian Team ने 41 साल में पहली बार Olympic खेलों के क्वार्टर फाइनल में अपना जगह बनाई थी।

Indian Women Hockey Team ने दक्षिण अफ्रीका पर 4-3 की जीत और बाद में मौजूदा चैंपियन ग्रेट ब्रिटेन की आयरलैंड पर 2-0 की विजय से शनिवार को 41 वर्षों में पहली बार Olympic खेलों के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया था। साउथ अफ्रीका के खिलाफ टीम की खिलाड़ी वंदना कटारिया ने जबरदस्त खेल दिखाते हुए लगातार तीन गोल दागकर टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी। वंदना Olympic में भारत की तरफ से गोलों की हैट्रिक लगाने वाली पहली खिलाड़ी भी बनीं थीं। हॉकी टीम की फॉर्म को देखते हुए फैन्स सेमीफाइनल में भी इस टीम से दमदार प्रदर्शन की उम्मीद करेंगे।

रविवार को भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने अपने क्वार्टर फाइनल मुकाबले में ग्रेट ब्रिटेन को 3-1 से हराकर 49 साल बाद Olympic खेलों के सेमीफाइनल का टिकट कटाया। टीम की ओर से दिलप्रीत सिंह ने 7वें, गुरजंत सिंह ने 16वें और हार्दिक सिंह ने 57वें मिनट में गोल किया।

यह भी पढ़ें: जलवायु संकट से भारतीय Companies को आने वाले सालों में होगा 732 करोड़ का नुकसान!

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है