Indian Railway ने अपने मेन्यू में खाने के विकल्पों में किया इज़ाफा, क़ीमतों में नहीं हुआ बदलाव

0
220

महंगाई का ज़माना है तो हर चीज़ महंगी ही मिलती है ऐसे में कहीं जाना हो तो खर्चा होना आम बात है लेकिन कभी कभी पैसा खर्च करने के बाद भी अच्छा खाना न मिले तो किसी को भी बुरा तो लगेगा ही। लंबी दूरी की यात्रा करने वाले रेलयात्रियों की आमतौर पर शिकायत रहती है कि ट्रेन में खाना अच्छा नहीं मिलता है। खाना चुनने के विकल्प भी बहुत ज़्यादा नहीं है। लिहाज़ा ज़्यादातर लोग घर का बना खाना ले जाते हैं। बचे हुए लोग ट्रेन में उपलब्ध करवाए जाने वाले खाने से ही काम चलाते हैं। ऐसे में अब Indian Railway ने कुछ बदलाव किए हैं जिससे यात्रियों को कोई परेशानी न हो।

Indian Railway ने इस दिशा में अब बड़ा कदम उठाया है। Railway अब यात्रियों को उनका मनपंसद खाना खिलाएगा। रेलवे अब यात्रियों को सीजनल के साथ रीजनल और बेबी फूड भी उपलब्ध कराएगा। अगर आप ट्रेन से जयपुर से हैदराबाद की यात्रा कर रहे हैं तो आपको दो दिनों तक गाड़ी में बना खाना ही इस्तेमाल करना होगा। ज्यादातर यात्रियों की ट्रेन के खाने को लेकर अक्सर शिकायत रहती है। लेकिन अब रेलवे बोर्ड ने IRCTC को मेन्यू में बदलाव करने के निर्देश दिए हैं। इसमें बच्चों से लेकर बुज़ुर्गों तक का विशेष ख्याल रखा गया है। इसके साथ ही साथ त्यौहार से जुड़े खाने और क्षेत्रीय व्यंजन भी परोसे जाएंगे।

उत्तर पश्चिम रेलवे के सीपीआरओ कैप्टन शशि किरण ने बताया कि मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों की बजट थाली की कीमतों में कोई बदलाव नहीं होगा। लेकिन मनपसंद खाना खाने के लिए मेन्यू में तय रेट के हिसाब से पैसा चुकाना होगा। अगर कोई यात्री शुगर या दूसरे रोग से ग्रसित है तो उसके लिए हल्के और सुपाच्य खाने का इंतजाम होगा। छोटे बच्चों की पंसद को भी मेन्यू में शामिल किया गया है।

Indian Railway इन दिनों बड़े बदलावों से गुज़र रहा है। Railway अपने सभी बदलाव यात्रियों को ध्यान में रखकर कर रहा है। इस बदले हुए मेन्यू में साधारण थाली की कीमतों में बढ़ोतरी नहीं की गई लेकिन दूसरा ऑप्शन चुनने पर ज्यादा कीमत चुकानी होगा। कीमत भले ही ज्यादा चुकानी पड़े लेकिन आप खाने से बोर नहीं होंगे और आपको आपका मनपसंद खाना ट्रेन में मिल जाएगा। इसे रेलवे का यात्रियों की सुविधाओं के लिए बढ़ाया गया बड़ा कदम माना जा रहा है।

इस बदलाव में सीजनल यानि मौसम के मुताबिक मिलने वाली सब्जियां और रीजनल यानि क्षेत्रीय खाने को तरजीह दी जा रही है। यात्री को पेंट्री कार के कर्मचारी को सूचित करना होगा और पहले से ही ऑर्डर करना होगा। उसके बाद दोपहर और रात में आपको वहीं खाना परोसा जाएगा। आसान शब्दों में कहें तो ट्रेन के मेन्यू में कुछ रेसिपी में इजाफा किया गया है ताकि यात्रियों को मनपसंद खाने के ज्यादा विकल्प मिल सकें।

यह भी पढ़ें – Janhvi Kapoor को क्यों आई Nysa Devgan की याद, कर डाला ऐसा कमेंट

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है