Indian Army

अब Indian Army के लिए चीन की हरकत पर नज़र रखना होगा आसान

Indian Army लगातार अपनी ताक़त में इज़ाफ़ा कर रही है। चीन के साथ जारी सीमा विवाद के बीच सेना ने आधुनिक गश्ती नौकाओं को खरीदने के प्रस्ताव को आख़िरी रूप दे दिया है जिसके तहत इन नौकाओं के आने के बाद जवानों के लिए चीन की हरकत पर नजर रखना आसान हो जाएगा।

चीनी सेना को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए भारतीय सेना ने कई कदम उठाए हैं। वहीं अब नई आधुनिक नौकाओं का इस्तेमाल पूर्वी लद्दाख में पैंगोंग झील समेत बड़े जलाशयों की निगरानी के लिए किया जाएगा। बता दें कि दोनों देशों में कई बार वार्तालाप हो चुकी है, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। ऐसे में Indian Army ने खुद को मजबूत बनाने के लिए काम शुरू कर दिया है। इसी क्रम में आधुनिक गश्ती नौकाओं की खरीद को मंज़ूरी दी गई है।

योगी राज में विकास के पथ पर उत्तर प्रदेश  PART-2

Indian Army के मुताबिक उसने सरकारी क्षेत्र के उपक्रम गोवा शिपयार्ड लिमिटेड के साथ करार पर हस्ताक्षर किए हैं। यह करार 12 गश्ती नौकाओं के लिए किया गया है। Army ने ट्वीट कर कहा  कि मई 2021 से नौकाओं की आपूर्ति शुरू हो जाएगी। बड़े जलाशयों में इन नौकाओं का इस्तेमाल गश्ती और निगरानी में किया जाएगा।

Goa Shipyard Limited ने एक बयान में कहा कि उसने अत्याधुनिक गश्ती नौकाओं के लिए Indian Army के साथ एक अनुबंध पर दस्तखत किया है। इन नौकाओं में सुरक्षा बलों की जरूरत के अनुरूप विशेष उपकरण लगाए जाएंगे।

Pangong lake और आसपास के इलाके की निगरानी के लिए भारतीय सेना अत्याधुनिक नौकाएं खरीद रही है, उसे रणनीतिक लिहाज से ज़रूरी माना जाता है। भारत ने मई की शुरुआत में गतिरोध शुरू होने के बाद से झील के आसपास निगरानी बढ़ा दी है।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्रामऔर यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं