Z+ सुरक्षा पाने वाले चुनिंदा लोगों में पूर्व जस्टिस का नाम भी शामिल

आम से लेकर ख़ास इंसान को अपनी सुरक्षा की परवाह होती है लेकिन कुछ लोग ऐसे होते हैं जिनकी सुरक्षा की ज़िम्मेदारी सरकार लेती है और उन्हें Z+ सुरक्षा देती है। अब भारत के Former chief justice रंजन गोगोई को Z+ Security मुहैया कराई गई है।

Former Justice Ranjan Gogoi का नाम कुछ वक़्त पहले तक कई लोग नहीं जानते थे लेकिन अयोध्या विवाद पर फैसला देने के बाद देश की जनता उन्हें पहचान ने लगी है। अब Ranjan gogoi को देशभर में कहीं भी आने-जाने के लिए Z+ Security मिली है। बता दें कि CRPF को उन्हें सुरक्षा मुहैया कराने के लिए कहा गया है। अयोध्या विवाद पर फैसला सुनाने से पहले भी तत्कालीन chief justice Ranjan gogoi को Z+ Security दी गई थी।

राम मंदिर निर्माण के लिए पूर्व क्रिकेटर ने दिया एक करोड़…

9 नवंबर 2019 को तत्कालीन Chief Justice of India Ranjan gogoi और 4 अन्य जजों की पीठ ने अयोध्या विवाद पर महत्वपूर्ण फैसला सुनाया था। पीठ ने विवादित जमीन पर राम मंदिर बनाने का आदेश दिया था।

खुफिया विभागों से मिली सूचना के आधार पर जेड प्लस और अन्य तरह की सुरक्षा VIP लोगों को दी जाती है। Z+ कैटेगरी के लोगों की सुरक्षा का जिम्मा केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल यानी CRPF करता है और Z+ कैटेगरी की Security देश के चुनिंदा लोगों को मिली हुई है। किसे Z+ Security दी जानी है, इसका फैसला Central Government करती है।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं