Coronavirus का आतंक देखकर हालात लगातार बिगड़ते जा रहे हैं नाइट कर्फ्यू कब Lockdown में बदल जाएगा ये फ़िलहाल कहा नहीं जा सकता। दिल्ली सरकार ने प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया(Electronic Media) को राहत देते हुए नाइट कर्फ्यू को लेकर जारी किए गए अपने पहले के आदेश में आंशिक संशोधन कर Media कर्मियों को ई-पास लेने की आवश्यकता से मुक्त कर दिया है।

Delhi में Media कर्मियों के लिए ई-पास के स्थान पर अब उनके आईडी कार्ड ही मान्य होंगे। मंगलवार(6 अप्रैल) को जारी किए गए आदेश में कहा गया था कि प्रिंट और Electronic Media के लोगों को ई-पास के जरिए आवाजाही की इजाज़त होगी। बता दें कि दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (DDMA) ने 6 अप्रैल के अपने आदेश में COVID-19 मामलों में आए उछाल के मद्देनजर 30 अप्रैल तक रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगा दिया है। मंगलवार को जारी किए गए आदेश में कहा गया था कि कुछ अन्य श्रेणियों के लोगों के साथ ही प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक Media के लोगों को भी नाइट कर्फ्यू के दौरान ई-पास के जरिए आवाजाही की इजाज़त होगी।

Delhi के मुख्य सचिव और कार्यकारी समिति के अध्यक्ष विजय देव द्वारा गुरुवार को जारी डीडीएमए के नए आदेश के अनुसार अब, Media कर्मियों को ई-पास के बजाय अपना ID card साथ लेकर चलने की आवश्यकता होगी।

Delhi में नाइट कर्फ्यू के दौरान यात्रा की अनुमति के लिए ई-पास के लिए जिलों के अधिकारियों को 1.19 लाख आवेदन प्राप्त हुए जिसमें से लगभग 87,000 को खारिज कर दिया गया। अधिकारियों ने गुरुवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि ज्यादातर आवेदन इसलिए खारिज किए गए क्योंकि वह कर्फ्यू से छूट पाने वाली श्रेणी में नहीं आते थे या उनमें दी गई सूचना में त्रुटि थी। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, लंबित आवेदनों की संख्या बुधवार को 30,000 से ज्यादा थी जो घटकर 20,055 रह गई है। कुल 1,19,369 आवेदन प्राप्त हुए जिसमें से केवल 12,068 स्वीकार किए गए।

यह भी पढ़ें: Delhi का ये अस्पताल बना कोरोना का हॉटस्पॉट, 37 डॉक्टर हुए Corona पॉज़िटिव

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है