Coronavirus के आतंक से सभी परेशान हैं। कहना गलत नहीं होगा कि Coronavirus की दूसरी लहर ने उत्तर प्रदेश को काफी ज्यादा प्रभावित किया है। हालांकि अब धीरे-धीरे हालात में सुधार हो रहा है और नए कोरोना मामलों में लगातार कमी देखी जा रही है। इस बीच Corona की संभावित तीसरी लहर को रोकने के लिए योगी सरकार ने तैयारी शुरू कर दी है। उम्मीद की जा रही है कि इस बार हालात पहले की तरह ख़राब न हों।
CM Yogi खुद Corona की तीसरी लहर से बच्चों को बचाने की तैयारी में जुटे हुए हैं। आयुष कवच से बच्चों को जोड़ने के लिए नया फीचर तैयार किया जा रहा है। सरकार हर जिले में बच्चों के लिए अलग से वार्ड बना रही है। इन वार्ड में 20 से 25 बेड बच्चों के लिए होंगे। इसमें जापानी इंसेफलाइटिस से निपटने के लिए तैयार 38 अस्पतालों को भी शामिल किया गया है।

डायबिटीज़ के मरीज़ कोरोना के इन लक्षणों से रहें सावधान

लखनऊ के पीजीआई के डायरेक्टर की अध्यक्षता में विशेषज्ञ डॉक्टरों की सरकार ने कमेटी बनाई है। कमेटी में लखनऊ मेडिकल कॉलेज, लोहिया संस्थान समेत कई विशेषज्ञ डॉक्टरों को रखा गया है। बच्चों के लिए दवा और बेड की उपलब्धता रहेगी साथ ही अलग से एंबुलेंस की व्यवस्था भी सरकार करेगी जिसे रिजर्व किया जाएगा। बता दें कि यूपी में बारह साल से कम आयु वाले बच्चों के अभिभावकों के लिए स्पेशल टीकाकरण शिविर लगेगा। PICU, NICU के ज़िला अस्पतालों में स्थापना की कार्रवाई भी शुरू हो गई है। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्र के Health infrastructure को मजबूत करने की प्रक्रिया को हरी झंडी दी गई है। जनप्रतिनिधियों को भी इस कार्रवाई में जोड़ा गया है और अस्पताल गोद लेने को कहा गया है।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है