आज देश दुनिया में World Environment Day मनाया जा रहा है। पूरा देश इस वक्त Corona की मार झेल रहा है, हर तरफ तबाही नजर आ रही है। इन सबके बीच हमें ये नहीं भूलना चाहिए कि पानी एक ऐसी चीज है जिसकी जरुरत सभी को है। स्वच्छ हवा के साथ-साथ स्वच्छ पानी प्रत्येक नागरिक का मौलिक अधिकार है, लेकिन बड़ा सवाल यह है कि क्या यह दोनों चीजें लोगों को मिल पा रही हैं। जवाब है नहीं। दरअसल, इंसानों और मवेशियों की बढ़ती आबादी के चलते पृथ्वी पर पानी की मौजूदगी घटी है।

Rain Water Resources का केवल चार फीसद हिस्सा भारत के पास है। ऐसे में अगर हमने पानी बचाने, उसका दोबारा उपयोग करने और बर्बादी रोकने के लिए नई तकनीकों का प्रयोग नहीं किया तो आने वाली पीढ़ी बूंद-बूंद के लिए परेशान होगी। World Environment Day से एक दिन पहले आयोजित टेरी के एक कार्यक्रम में पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने वनों का सर्वेक्षण करने के लिए इस्तेमाल की जा रही लाइट तकनीक के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि सर्वेक्षण के बाद विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार की जाएगी और बारिश के बाद सभी राज्यों में सही जगहों पर वाटरशेड विकास का काम शुरू हो जाएगा।

प्रकाश जावडेकर ने कहा कि पर्यावरण मंत्रालय ने इस सर्वेक्षण के लिए प्रतिपूरक वनीकरण कोष प्रबंधन और योजना प्राधिकरण (सीएएमपीए) के माध्यम से धन उपलब्ध कराया है। इतना ही नहीं प्रतिपूरक वनीकरण कार्यक्रम के लिए 40,000 करोड़ रुपये पहले ही दिए जा चुके हैं। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के चलते 15 वर्ष से इस पैसे का इस्तेमाल नहीं हो रहा था। हमने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का आधार बदल दिया और सभी राज्यों को फंड बांट दिया।
जानें, किस तरह बचाया जा सकता है पानी

• जंगलों में चारा और पानी की उपलब्धता बढ़ाने पर जोर दिया जाए ताकि जानवरों को वन क्षेत्र छोड़कर बाहर नहीं आना पड़े
• नदी जोड़ों परियोजना के माध्यम से भी पानी की कमी को पूरा किया जा सकता है
• स्प्रिंकलर, ड्रिप सिंचाई और दूसरे अन्य तरीकों का उपयोग करके पानी बचाया जा सकता है
• मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश के बीच हुआ केन-बेतवा समझौता महत्वपूर्ण
• गुजरात में भी दो स्थानीय नदियों को जोड़ा गया है
• सबसे जरुरी बात ये है कि पानी को बर्बाद ना करें।

यह भी पढ़ें: Coronavirus: कोरोना से होने वाली मौतों के मामले में ये देश है सबसे आगे

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है