येदियुरप्‍पा के बाद कर्नाटक की कमान किसके हाथ में होगी इसके लिए कई नामों पर कई दिनों से चर्चा हो रही है और उनके इस्तीफे के एलान के बाद दिल्ली में हलचल तेज हो गई है। येदियुरप्‍पा को चार बार मुख्‍यमंत्री के पद पर आसीन रहने का अनुभव तो है साथ ही उन्‍हें कर्नाटक के प्रभावशाली लिंगायत समुदाय का भी समर्थन प्राप्‍त है। ऐसे में कौन होगा कर्नाटक का अगला सीएम इस पर काफी अटकलें लगाई जा रही हैं। हालांकि जिन लोगों का नाम चर्चा में है वे सभी बातों को महज अफवाह बता रहे हैं।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की रेस में प्रह्लाद जोशी, बीएल संतोष, लक्ष्मण सवदी और मुरुगेश निरानी का नाम शामिल है। सूत्रों ने बताया कि भाजपा जल्द ही कर्नाटक में पर्यवेक्षण भेजेगी। नए मुख्यमंत्री के शपथ लेने तक बीएस येदियुरप्पा कार्यवाहक सीएम बने रहेंगे।  भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, कर्नाटक के भाजपा प्रभारी अरुण सिंह और गृह मंत्री अमित शाह नए मुख्यमंत्री के नाम पर चर्चा कर रहे हैं। इस बीच येदियुरप्पा के उत्तराधिकारी के तौर पर केंद्रीय कोयला, खनन व संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी कर्नाटक के उप मुख्यमंत्री लक्ष्मण सवदी, संगठन महासचिव बीएल संतोष और प्रदेश सरकार में खनन मंत्री व उद्योगपति एमआर निरानी का नाम आगे चल रहा है। हालांकि, जोशी ने कहा कि उनसे इस बारे में अभी तक शीर्ष नेतृत्व ने कोई बात नहीं की है जबकि निरानी का कहना है कि पार्टी जो भी आदेश देगी, वह उसका पालन करेंगे। बता दें कि लिंगायत समुदाय का कर्नाटक में सबसे ज्यादा दबदबा है।

राज्य में सबसे ज्यादा करीब 17 फीसदी आबादी इसी समुदाय की है। इस समुदाय को बीजेपी और येदियुरप्पा का पक्का समर्थक माना जाता है। यह समुदाय समाज में समानता के लिए लड़ने वाले बसवन्ना को देवता मानता है। राज्य में करीब 35 से 40 फीसदी विधानसभा सीटों की हार-जीत का फैसला इस समुदाय के हाथ में है।कर्नाटक सीएम को लेकर आज फैसला हो सकता है। खुद येदियुरप्पा ने यह कहा था कि पार्टी आलाकमान सोमवार तक इस मसले पर फैसला ले सकता है। हालांकि, बीजेपी चीफ जेपी नड्डा ने रविवार को येदियुरप्पा की तारीफ करते हुए कर्नाटक में किसी भी तरह के राजनीतिक संकट की अटकलों को खारिज किया था। उन्होंने कहा था कि येदियुरप्पा अच्छा काम कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: दुनिया के सबसे खतरनाक Serial Killer का हुआ अंत, जानें कैसे बनाता था लड़कियों को शिकार

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है