वॉट्सऐप की ओर से केंद्र सरकार के खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट में एक शिकायत दर्ज कराई गई है। नए नियमों के तहत भारत सरकार ने फेसबुक,WhatsApp के मालिकाना हक वाली कंपनी को प्राइवेसी रूल्स से पीछे हटने को कहा है। जिसमें लागू होने वाले नए आईटी नियमों को लागू नहीं करने की मांग की गई है। WhatsApp बनाम भारत सरकार का केस 25 मई को दर्ज किया गया था। Messenger app ने भी कहा कि नए रूल्स से यूजर्स की प्राइवेसी प्रभावित होगी।

केंद्र सरकार द्वारा दिए गए निर्देश के तहत इन कंपनियों को कंप्लायंस अधिकारी को नियुक्त करना होगा उसके साथ उनका नाम और कॉन्टैक्ट एड्रेस देश (India) का होना आवश्यक है। Whatsapp ने अपने तरफ से जारी बयान में कहा कि भारत सरकार के नए दिशा निर्देशों में WhatsApp चैट ट्रेस करने की बात कही गई है। ये एंड-टू-एंड Encryption को तोड़ देगा और यूजर्स के निजता के अधिकार को कमजोर कर देगा। WhatsApp ने अपने बयान में ये भी कहा कि हम इस सभी मामले पर सिविल सोसाइटी के साथ में है। वहीं, गूगल और फेसबुक ने कहा कि, वे नए आदेशो का पालन करने की कोशिश कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: बारात न आने पर Dulhan ने कोतवाली पहुंच कर कह डाली ये बात

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है