भारत में Covid-19 महामारी की Second Wave अब कमजोर पड़ती दिखाई पड़ रही है। कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर ने पहली लहर के मुकाबले ज्‍यादा लोगों को संक्रमित किया है। कोरोना वायरस की दूसरी लहर में सबसे ज्‍यादा प्रभावित राज्य महाराष्‍ट्र और केरल दिखाई पड़ते हैं। Covid-19 संक्रमण की पहली लहर में केरल ने जिस तरह से संक्रमण को रोकने में सफलता हासिल की थी, उसके उलट कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर में Kerala सबसे ज्‍यादा प्रभावित राज्‍यों में शामिल रहा है। इसी तरह Covid-19 की पहली लहर में सबसे ज्‍यादा प्रभावित राज्‍य Maharashtra दूसरी लहर को भी संभालने में कामयाब नहीं हो सका।

Maharashtra और केरल में कोरोना वायरस संक्रमण मामलों के बढ़ने के अपने-अपने कारण दिखाई पड़ते हैं। महाराष्‍ट्र में Covid-19 संक्रमण के बढ़ते केसों की वजह वहां की जनसंख्‍या व Covid-19 नियमों की अनदेखी को बताया जा रहा है। इसके साथ ही मौसमी बीमारी के वजह से भी मरीजों की संख्‍या में काफी इजाफा दर्ज किया गया है। राज्य में मई 2021 में Covid-19 के सबसे ज्‍यादा मामलें दिखाई दिए थे। कोरोना की First Wave को काफी अच्‍छे से कंट्रोल करने वाले Kerala की हालत दूसरी लहर के दौरान तेजी से खराब हुई थी। विशेषज्ञ इसके पीछे केरल Assembly elections को मानते हैं। मार्च 2021 से ही केरल विधानसभा चुनाव की तैयारी तेज कर दी गई थी जबकि चुनाव अप्रैल 2021 के पहले हफ्ते में हुए थे। विधानसभा चुनाव के दौरान कोविड-19 नियमों को नजरअंदाज किया गया।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है