साल 2020 का पहला त्यौहार Lohri आज पूरा देश में मनाया जा रहा है।

साल 2020 का पहला त्यौहार Lohri आज पूरा देश में मनाया जा रहा है। बता दें कि ये हर साल 13 जनवरी को मनाया जाता है। लोहड़ी पंजाबी लोगों का सबसे खास त्योहार माना जाता है। इस दिन को पंजाबी लोग बहुत धूम-धाम से मनाते है। साथ ही ये त्योहार मुख्य रूप से Punjab और Haryana  में देखने को मिलता है। तो वहीं इस त्योहार के बाद Makar Sankranti  का पर्व आता है। इस दिन परंपरा के अनुसार पंजाब में नई फसल की पूजा जाती है। और चौराहे पर लकड़ी लगाकर उसे अग्नि देकर इस दिन को मनाया जाता है। इस दिन पुरुष आग के चारों ओर भांगड़ा करते हैं, वहीं महिलाएं अग्नि के चारों ओर गिद्दा करती हैं। इस दिन तिल, गुड़, गजक, रेवड़ी और मूंगफली के साथ पूजा को पूरा किया जाता है और बाद में प्रसाद के रूप में ये लोगों को दिया जाता है।

Lunar Eclipse: इस साल का पहला Chandra Grahan आज, जाने इससे जुड़ी खास बातें

जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर मोदी सरकार को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

तो आपके दिल में ये सवाल भी आया होगा कि अखिरकार ये त्योहार मनाने के पीछे क्या राज है। तो इससे भी आपको रूबरू करा देते है। दरअसल ये त्योहार बहुत पुराना है। इस दिन अग्नि की पूजा करके सब जगह खुशहाली की दुआ मांगी जाती है। पारंपरिक तौर से ये त्यौहार विशेष रूप से फसल की बुआई और उसकी कटाई से जुड़ा हुआ है। तो वहीं इस दिन लोहड़ी के चारों ओर डांस किया जाता है। इसके साथ आग के चारों ओर घेरा बनाकर दुल्ला भट्टी की कहानी भी सुनी जाती है। ये लोहड़ी वाले दिन ही कहानी को सुनने के पीछे भी राज है। मान्यता है कि मुगल काल में अकबर के समय में दुल्ला भट्टी नाम का एक व्यक्ति पंजाब में रहता था। उस समय में कुछ अमीर व्यापारी सामान की जगह शहर की लड़कियों को बेचा करते थे जिन्हें दुल्ला भट्टी ने उन लोगों की गिरफ्त से बचाकर उन लड़कियों की शादी करवाई थी। तब से हर साल लोहड़ी के त्योहार पर दुल्ला भट्टी की याद में उनकी कहानी सुनाने की परंपरा चली आ रही है।