क़ुदरत का कमाल, 30 साल बाद फिर बहने लगा Waterfall

0
104

भारत देश में न जानें कितने खूबसूरत झरने, नदियां और वादियां हैं। इसलिए ही ऐसा माना जाता है कि भारत हमेशा से ही प्राकृतिक उपहारों से समृद्ध रहा है। इन दिनों एक Waterfall चर्चा का विषय बना हुआ है और चर्चा भी कुछ खास वजहों से है। यह Waterfall 30 साल बाद अचानक बहने लगा और इस सूखे झरने से पानी निकलने लगा।

इस खूबसूरत दृश्य को देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ रही है। इन दिनों इस Waterfall के आसपास का इलाका लोगों से गुलजार हो उठा है। यह सब तब हुआ जब हाल ही में लोगों ने देखा कि इस Waterfall से झर-झर पानी निकल रहा है।

यह Waterfall हरियाणा जिले के फरीदाबाद में स्थित है जो अरावली पर्वतमाला से जुड़ा हुआ है। एक ऑनलाइन रिपोर्ट में बताया है कि इस Waterfall के बारे में हमेशा से ही ऐसी मान्यता रही है कि यह Waterfall महाभारत कालीन है। ऐसा कहा जाता है कि जब पांडवों ने इंद्रप्रस्थ शहर बसाया था तो जर्जर और वीरान अरावली पर्वत पर अनेकों झरनों को अपने तप से प्रकट किया। उन्हीं में से फरीदाबाद के मोहबताबाद गांव में स्थित यह झरना भी है। रिपोर्ट में इस बात का भी जिक्र है कि अरावली पर्वत पर कई कुंड निर्मित थे, जिनसे पानी लगातार पूरे साल बहता था। नीचे भी एक कुंड बना हुआ है, जिसमें लोग स्नान करते थे।

यह Waterfall सदियों से बहता रहा है लेकिन ताबड़तोड़ खनन और कम बारिश के होने के चलते यह करीब तीस साल पहले सूख गया था। लोगों को उम्मीद नहीं थी कि इस Waterfall में कभी दोबारा पानी आ पाएगा, लेकिन इस बार अगस्त व सितंबर माह में अच्छी बारिश होने के कारण यह Waterfall अपने पुराने स्वरूप में लौट आया और फिर अचानक झर-झर करते हुए इसमें से पानी निकलने लगा। लोग यह देखकर हैरान रह गए कि पानी कैसे आ गया लेकिन अब यह खूबसूरत दृश्य देखकर लोग खुश भी हो रहे हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि यह स्थान उदयालक मुनि की तपोभूमि भी है। जिस गुफा में वे तपस्या करते थे, वह गुफा आज भी है और उनकी मूर्ति भी वहां स्थापित है जिसकी लोग पूजा करते हैं। इसके अलावा आसपास कई ऐसी प्राचीन चीजें मौजूद हैं जो इस जगह को बाकी जगहों से अलग बनाती हैं।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है