कहते हैं कि अगर यूपी में सरकार बनानी है तो उसका रास्ता गांव से होकर गुजरता है। तभी तो यूपी में पंचायत चुनाव के ऐलान के बाद से गांव में सरकार बनाने के लिए हो हल्ला शुरु हो चुका है। एक तरह से देखें तो यूपी में होने वाले पंचायत चुनाव 2022 विधानसभा चुनाव का सेमीफाइनल माने जा रहे हैं। क्योंकि पंचायत चुनाव के बाद ये साफ हो जाएगा कि जनता का मिजाज क्या है और हवा किस ओर बह रही है।  यूपी में चार चरणों में पंचायत चुनाव होने हैं। पहले चरण में 18, दूसरे और तीसरे चरण में 20-20 और चौथे चरण में 17 जिलों में चुनाव होना है। पंचायत चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद जहां लोगों पर चुनावी रंग चढ़ना शुरु हो चुका है। वहीं दूसरी ओर प्रशासन के लिए कोरोना के साये में पंचायत चुनाव कराना किसी चुनौती से कम नहीं होने वाला क्योंकि कोरोना के मामले एक बार फिर बढ़ने लगे हैं और नामांकन से लेकर मतदान तक कोरोना गाइडलाइंस का पालन करवाना आसान नहीं होने वाला, लिहाजा कोरोना के मद्देनजर प्रशासनिक इंतजामातों पर भी लगातार नजर रहेगी

Corona का कहर बरक़रार, इन चीज़ों पर लग सकती है रोक

कुल मिलाकर देखा जाए तो यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर योगी सरकार की तैयारियां अभी तक पुख्ता नजर आ रही हैं। पंचायत चुनाव के मद्देनजर पुलिस महकमे ने भी कमर कस ली है और आए दिन पंचायत चुनाव में इस्तेमाल की जाने वाली शराब की खेप पकड़े जाने की खबरें भी सामने आ रही हैं। उम्मीद तो यही करेंगे कि पंचायत चुनाव शांतिपूर्वक समाप्त होंगे और फिर गांव की सरकार के जरिए जनता का मिजाज भी पता चल जाएगा।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है