Corona virus ने हर किसी की ज़िन्दगी को बदल कर रख दिया है। Corona के चलते सरकार और संसद के अधिकारी जुलाई में संसद के मानसून सत्र की कम समय के लिए आयोजित करने या फिर इसे अगस्त-सितंबर तक स्थगित करने की संभावनाओं पर विचार कर रहे हैं।

इस मामले से परिचित अधिकारियों ने नाम न छापने की शर्त पर ये जानकारी दी है। बीते तीन संसद सत्रों को Corona के ही चलते छोटा करना पड़ा था। वहीं दोनों सदनों में शीतकालीन सत्र को पूरी तरह से छोड़ दिया गया था। मानसून सत्र आमतौर पर जुलाई में आयोजित किया जाता है। अधिकारियों ने बताया कि ‘संविधान के अनुसार, कोई भी सत्र पिछले छह महीने के भीतर शुरू होना चाहिए इसलिए सरकार के पास मानसून सत्र बुलाने के लिए फिलहाल 24 सितंबर तक का समय है।’

भारतीय जनता पार्टी के एक नेता ने बताया कि पार्टी ने अनौपचारिक रूप से छोटा संसद सत्र आयोजित करने की संभावना पर चर्चा की है। ये शायद जुलाई की शुरुआत में होगा। उन्होंने कहा कि Corona मामलों की संख्या अब कम होने लगी है इसलिए हमें कुछ समय इंतजार करना होगा और स्थिति को देखना होगा। सुझाव है कि सत्र जुलाई में आयोजित किया जा सकता है ताकि अगर सितंबर में Corona की तीसरी लहर आती है, तो संसद कम से कम 15 दिन के लिए चल चुकी होगी।

एक BJP नेता ने कहा कि सत्र का समय लंबित विधायी कामकाज और बाहरी सांसदों की सदन में भाग लेने की क्षमता जैसे फैक्टर्स पर निर्भर करेगा क्योंकि कुछ राज्यों में Corona के दैनिक मामले अभी भी अधिक हैं, इसलिए सांसदों को यात्रा करना आसान नहीं होगा।

यह भी पढ़ें: Corona के कहर के बाद अब मिल रही है राहत की ख़बर, कम हो रहे हैं एक्टिव केस

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है