Corona virus की दूसरी लहर में कुछ Virus के कहर से मरे तो कुछ Oxygen की कमी के चलते मारे गए। Corona virusकी तीसरी लहर कब दस्तक दे दे ये कोई नहीं जानता लेकिन ये सवाल अब भी लोगों के दिमाग में है कि क्या इस बार Oxygen की कमी न हो इसके लिए सरकार कितनी तैयार है।

Oxygen की सप्लाई बढ़ाने के लिए बड़ा प्लान बनाया है। सरकार Oxygen का उत्पादन और सप्लाई से जुड़ी बुनियादी सुविधाओं को बेहतर बना रही है। Corona की दूसरी लहर में देश में लोगों को Oxygen की कमी का सामना करना पड़ा था। Oxygen नहीं मिलने से कई लोगों की जान चली गई थी।

पीएसए व्यवस्था की निगरानी के लिए सिस्टम बनाया जा रहा है। सरकार Oxygen की स्टोरेज सुविधा पर भी फोकस बढ़ाना चाहती है। इससे फिलिंग कैपेसेटी बढ़ाने में भी मदद मिलेगी। राज्यों में स्टोरेज हब बनाने के बारे में राज्य सरकारों से चर्चा चल रही है। इससे लोकल स्तर पर भी Oxygen की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी।

Corona की दूसरी लहर के दौरान झारखंड और उड़ीसा जैसे Oxygen की ज्यादा उपलब्धता वाले राज्यों से दिल्ली, कर्नाटक और महाराष्ट्र को Oxygen की सप्लाई करनी पड़ी थी। दिल्ली में प्रोडक्शन फैसिलिटी नहीं होने से Oxygen को पहुंचाने के लिए टैंकर की व्यवस्था करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ा था।

सरकार Oxygen के उत्पादन के लिए दिल्ली और मुंबई जैसे बड़े शहरों में plant लगा रही है। इसके अलावा ऑक्सीजन का buffer stock भी बनाने का प्लान है। इससे जरूरत पड़ने पर Oxygen की पर्याप्त आपूर्ति हो सकेगी। सरकार पहले ही 1,200 से ज्यादा प्रेशर स्विंग एडसॉर्प्शन Oxygen जेनरेटर्स (PSA) लगाने का ऐलान कर चुकी है।

यह भी पढ़ें: पर्यटकों में ख़ुशी की लहर, अब 15 जुलाई तक Jim Corbett Park के लिए खुली Online बुकिंग

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है