आज देश में 22वां Kargil Vijay Diwas मनाया जा रहा है। इस मौके पर केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट ने दिल्ली में स्थित National War Memorial पर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। साथ ही तीनों सेना प्रमुखों (थल सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे, वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया, नेवी के वाइस चीफ वाइस एडमिरल जी अशोक कुमार) ने भी शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की।

भारत और पाकिस्तान की सेनाओं के बीच साल 1999 में Kargil के पहाड़ों पर जंग हुई थी और बाद में भारत ने Kargil की पहाड़ियां फिर से अपने कब्जे में ले ली थीं। इस लड़ाई की शुरुआत तब हुई थी, जब पाकिस्तानी सैनिकों ने Kargil की ऊंची पहाड़ियों पर घुसपैठ करके वहां अपने ठिकाने बना लिए थे।

PM Modi ने सोमवार को Kargil Vijay Diwas की 22वी वर्षगांठ पर पाकिस्तान के साथ हुए इस युद्ध के शहीदों को याद किया और कहा कि उनकी बहादुरी हर दिन देशवासियों को प्रेरित करती है। उन्होंने ट्वीट किया, “हम उनके बलिदानों को याद करते हैं। हम उनकी बहादुरी को याद करते हैं। आज Kargil Vijay Diwas के अवसर पर हम उन सभी को श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं, जिन्होंने देश की रक्षा करते हुए Kargil में अपने आप को न्योछावर कर दिया। उनकी बहादुरी हमें हर दिन प्रेरणा देती है।”

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर कहा, “Kargil Vijay Diwas पर इस युद्ध के सभी वीर सेनानियों का स्मरण करता हूं। आपके अदम्य साहस, वीरता और बलिदान से ही Kargil की दुर्गम पहाड़ियों पर तिरंगा पुनः गर्व से लहराया। देश की अखंडता को अक्षुण्ण रखने के आपके समर्पण को कृतज्ञ राष्ट्र नमन करता है।”

यह भी पढ़ें: मुश्किल होने जा रही है देश की Economy, जल्द प्राथमिकताएं दुरुस्त करे भारत

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है