इकॉनमी के सभी सेक्टरों से अच्छे संकेत मिल रहे हैं: प्रकाश जावड़ेकर

कोरोना काल में हर इंसान परेशान है। महंगाई ने सभी के बजट को बिगड़ रखा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्‍यक्षता में आज हुई कैबिनेट मीटिंग में देश की अर्थव्‍यवस्‍था को लेकर बातचीत हुई। इस दौरान कहा गया कि इंडियन इकोनॉमी तेजी से पटरी पर लौट रही है। बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा कि हर सेक्‍टर से इकोनॉमी के तेजी पटरी पर लौटने के संकेत मिल रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वित्त वर्ष 2020-21 की दूसरी तिमाही में अच्छी आर्थिक वृद्धि दर्ज की गई है। सूचीबद्ध कंपनियों का टर्नओवर और मुनाफा बढ़ा है। यही नहीं, अक्‍टूबर के दौरान निवेश और विदेशी प्रत्‍यक्ष निवेश में बढ़ोतरी हुई है। उन्‍होंने कहा, ‘इन सभी संकेतों से साफ है कि देश की अर्थव्‍यवस्‍था तेजी से बेहतर स्थिति की ओर बढ़ रही है। इस दौरान उन्‍होंने बताया कि पीएम मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति (CCEA) की बैठक में हिमाचल प्रदेश में 1810 करोड़ रुपये लागत वाले 210 मेगावाट के एक हाइड्रोपावर प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी गई है। इससे 2,000 लोगों को रोजगार मिलेगा।

जावड़ेकर ने कहा कि खेती और रेलवे में बिजली की खपत उम्मीद के मुताबिक नहीं रही है। फिर भी देश में औद्योगिक गतिविधियों में बिजली की खपत बढ़ी है। उन्होंने कहा कि अब इकॉनमी के सभी सेक्टरों से अच्छे संकेत मिल रहे हैं। अक्टूबर में जीएसटी कलेक्‍शन 1।05 लाख करोड़ रुपये रहा। उत्पादन के लिए इनपुट की खरीद भी बढ़ी है। स्टील के उत्पादन और निर्यात में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। डिजिटल ट्रांजैक्शन में वृद्धि हुई है। वहीं, भारतीय रेलवे ने माल ढुलाई से आमदनी में इजाफा किया है।

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है