चीन की मदद पाकर भारत को आंख दिखा रहा है Taliban

0
54

कहते हैं दुश्मन का दोस्त भी दुश्मन से कम नहीं होता है। कुछ ऐसा ही हाल भारत के साथ भी है। Afghanistan में Taliban का दोस्त अब चीन बन गया है। Taliban शायद भूल गया है कि चीन किसी का सगा नहीं है। फ़िलहाल तो Taliban चीन की मदद पाकर बेहद खुश है। Afghanistan में चीन की दखलअंदाजी से Taliban को कोई दिक्कत नहीं है और वह खुद चाहता है कि चीन यहां बढ़चढ़ कर भाग ले।

Taliban ने कहा कि चीन Afghanistan के निर्माण में भाग ले सकता है और अन्य आवश्यक क्षेत्रों में सहायता प्रदान कर सकता है। इस तरह से Taliban ने भारत की चिंताओं को सिरे से खारिज कर दिया, जो इस क्षेत्र में बीजिंग की बड़े पैमाने पर निवेश परियोजनाओं से उपजा है। तालिबानी प्रवक्ता सुहेल शाहीन ने कहा कि भारत की कुछ चिंताएं उचित नहीं हैं और न ही वे स्वीकार्य हैं।

Afghanistan से अमेरिकी और नाटो सैनिकों की वापसी के बाद Taliban सरकार आने वाले 6 महीनों में संकटग्रस्त देश में बड़े निवेश के लिए चीन की ओर मुंह पाए खड़ी है। Taliban को उम्मीद है कि ऐसे वक्त में चीन ही उसका एकमात्र सहारा बन सकता है और बीजिंग ने भी कुछ ऐसा ही भरोसा दिलाया है। चीन ने स्पष्ट किया है कि वह तालिबानी राज में Afghanistan की सार्वभौमिकता और अखंडता का सम्मान करेगा।

तालिबानी प्रवक्ता सुहेल शाहीन ने पूछा कि हमें Afghanistan के पुनर्निर्माण पर ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है और अब जब चीन हमारे लोगों के लिए रोजगार पैदा करने के लिए Afghanistan के निर्माण में हमारी मदद करने के लिए आगे आया है तो इसमें गलत क्या है? उन्होंने कहा कि Taliban की साझा स्वार्थ की नीति है और कहा कि इस गंभीर स्थिति में यह बहुत महत्वपूर्ण है कि चीन Afghanistan की मदद के लिए आगे आए। उन्होंने कहा कि चीन Afghanistan के निर्माण में भी भाग ले सकता है और अन्य आवश्यक क्षेत्रों में सहायता प्रदान कर सकता है। इसके बाद दोनों देश पारस्परिक रूप से लाभप्रद द्विपक्षीय समझौतों में प्रवेश कर सकते हैं जो पारस्परिक सम्मान के माध्यम से दोनों देशों के हितों की सर्वोत्तम सेवा करते हैं।

सूत्रों ने कहा कि Taliban सरकार को वैश्विक मान्यता मिलने के बाद चीन युद्धग्रस्त Afghanistan में बुनियादी ढांचा परियोजनाओं का निर्माण शुरू कर देगा।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है