Supreme Court ने कोरोना वायरस के खिलाफ इस्तेमाल की जा रही कोविड-19 वैक्सीन को लेकर जानकारियों की मांग की है। कोर्ट ने कोरोना वायरस वैक्सीन की दामों से लेकर खरीद तक का पूरा लेखा-जोखा Central Government को पेश करने के लिए कहा है। देश में अभी कोवैक्सीन, कोविशील्ड और Sputnik V का इस्तेमाल किया जा रहा है। जज DY Chandrachud, एलएन राव व Justice S Ravindra Bhat की विशेष पीठ मामले की सुनवाई कर रही थी।

SC ने भारत सरकार से एक रिपोर्ट तैयार करने के लिए कहा है, जिसमें देश में उपयोग की जा रही कोविड-19 संक्रमण वैक्सीन की राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय दामों की तुलना की गई हो। Supreme Court ने केंद्र से अपनी नीति निर्धारण से संबंधित दस्तावेज और फाइल नोटिंग भी तैयार करने के लिए कहा है। इसके अलावा SC ने कोवैक्सीन, कोविशील्ड व Sputnik V की अब तक की खरीद का तमाम सटीक जानकारी देने के लिए भी कहा है।

हालांकि, देश में दो कोरोना वैक्सीन ऐसी हैं, जिनका उपयोग दुनिया के अन्य कई देशों में भी हो रहा है। रूसी Corona Vaccine Sputnik V इस महीने के दूसरे सप्ताह तक Apollo Hospitals में मिलने लगेगी। इसकी कीमत 1,195 रुपये प्रति डोज रखी गई है। जबकि, Covishield राज्यों को 300 रुपये प्रति डोज और Private Hospitals को 600 रुपये प्रति कोरोना डोज में उपलब्ध कराई जा रही है।

Supreme Court ने राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों को फ्री टीकाकरण अपना मत रखने के लिए दो हफ्तों का टाइम दिया है। बीते दिन Website पर अपडेट हुए 31 मई 2021 को दिए निर्देश में Supreme Court ने कहा था, हम केंद्र सरकार को 2 हफ्ते के भीतर हलफनामा दायर करने का आदेश देते हैं।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है