भारत में केविड-19 की दूसरी लहर कम होती दिख रही है। Health Ministry के आंकड़ों के अनुसार, बीते 24 घंटे में 1,65,553 नए कोविड-19 संक्रमण के मामले आए। जबकि, 3 हजार 4 सौ 60 कोरोना वायरस संक्रमितों की जान चली गई है। वहीं 2,76,309 लोग संक्रमण से ठीक भी हुए हैं। बीते दिन 1लाख 14 हजार 216 कोरोना के एक्टिव मामला कम हो गए।

बीते 24 घंटे में 30,35,749 कोरोना वायरस टीके लगाए गए। जबकि, 34 करोड़ 31 लाख से अधिक कोविड-19 संक्रमण टेस्ट किए जा चुके हैं। पिछले दिन लगभग 20 लाख कोविड-19 संक्रमण सैंपल टेस्ट किए गए, जिसका Positivity rate 8 प्रतिशत से अधिक है।

भारत में कोविड-19 संक्रमण से मृत्यु 1.16 प्रतिशत है। वहीं कोरोना संक्रमण रिकवरी रेट 90 प्रतिशत से अधिक है। जबकि, एक्टिव कोरोना वायरस केस घटकर 8 प्रतिशत से भी कम हो गए हैं। कोविड-19 संक्रमण केस एक्टिव मामले में दुनिया में भारत दूसरा स्थान पर है।

नरेंद्र मोदी सरकार ने कोरोना वायरस महामारी के कारण अपने मां-बाप को खो चुके बच्चों के लिए कई तरह के महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं। केंद्र सरकार की ओर से इस कोरोना महामारी के दौरान हुए अनाथ बच्चों को मुफ्त शिक्षा दी जाएगी। वहीं, Corona virus महामारी के दौरान हुए अनाथ बच्चों को 18 साल का होने पर मासिक भत्ता दिया जाएगा जबकि 23 साल की उम्र में उन बच्चों को PM Cares Fund से 10 लाख रुपये भी दिए जाएंगे।

इसी कड़ी में PMO ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण की वजह से अपने मां-बाप को खोने वाले बच्चों को 18 साल की अवधि तक 5 लाख का बिल्कुल मुफ्त हेल्थ बीमा मिलेगा। साथ ही ऐसे अनाथ बच्चों की उच्च शिक्षा के लिए एजुकेशन लोन दिलाने में मदद की जाएगी व इस एजुकेशन लोन का ब्याज PM Cares Fund भरेगा। भारत के PM Narendra Modi ने कहा कि बच्चे भारत के भविष्य हैं, हम उनकी सुरक्षा और सहायता के लिए बेहतर प्रयास करेंगे।

यह भी पढ़ें: Wuhan Lab में ही तैयार हुआ Corona Virus, यूनिक फिंगरप्रिंट भी मिला, जानें पूरी खबर

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है