RBI के साथ रजिस्टर्ड बैंकों पर ही भरोसा करें जनता

महंगाई के इस दौर में अपने सपने को पूरा करने के लिए ज़्यादातर लोग बैंक से लोन लेते हैं। आज कल वक़्त की कमी के चलते लोग जल्द से जल्द लोन लेने के चक्कर में तगड़ा नुकसान उठाते हैं। RBI ने लोगों को आगाह किया है कि अगर आप अनऑथराइज्ड डिजिटल प्लेटफॉर्म या फिर Mobile Apps के जरिए लोन लेने के लिए अप्लाई कर रहे हैं तो सावधान हो जाएं, क्योंकि आपके डॉक्यूमेंट्स के साथ फर्जीवाड़ा किया जा सकता है।

RBI (भारतीय रिजर्व बैंक) ने बुधवार(23 दिसंबर) को सभी ग्राहकों को अलर्ट करते हुए बताया कि अगर आप डिजिटल प्लेटफॉर्म या फिर Mobile App के जरिए लोन लेने के लिए अप्लाई कर रहे हैं तो सावधान हो जाएं। इसके जरिए ना सिर्फ आपके डॉक्यूमेंट्स के साथ फर्जीवाड़ा किया जा सकता है बल्कि ऊंची ब्याज दरों पर लोन दिया जाता है। इसके अलावा इनके पैसों की रिकवरी का तरीका भी बहुत गलत होता है।

रिजर्व बैंक ने कहा कि इस तरह लोन लेने वाले ग्राहकों को ज्यादा दरों पर ब्याज चुकाना होता है। इसमें कई तरह के अतिरिक्त चार्ज छिपे हुए होते हैं। इसके साथ ही फोन के जरिए आपकी पर्सनल डाटा का गलत इस्तेमाल किया जा सकता है। इसलिए ही RBI ने ऐसे मोबाइल ऐप और डिजिटल प्लेटफॉर्म से व्यक्तिगत तौर पर या छोटे व्यवसाय के लिए अनाधिकृत ऋण लेने से बचने को कहा है जो तुरंत और बिना कागजात के पैसे देने का वादा करते हैं।

ध्यान रहे कि कंज्यूमर को कभी भी केवाईसी डॉक्यूमेंट्स किसी अनजान व्यक्ति, अनाधिकृत ऐप को नहीं देने चाहिए और ऐसी घटनाओं के बारे में संबंधित कानून प्रवर्तन एजेंसियों को सूचित करना चाहिए। बता दें कि बैंक, आरबीआई से रजिस्टर्ड गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) और अन्य संस्थाओं जो राज्य सरकार के वैधानिक प्रावधानों के तहत द्वारा विनियमित उनसे लोन लिया जा सकता है।

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है