Nepal में यात्रा संबंध में नए नियम लागू किए गए हैं। गुरुवार को प्रशासन द्वारा दिए गए आदेश के मुताबिक, विदेशी पर्यटकों के लिए क्वारंटाइन नियम को हटा दिया है। बर्शत सभी पर्यटकों ने कोरोना टीके के दोनों डोज लगवाए हो। यह निर्णय कोरोना महामारी के चलते ट्रैवल एंड टूरिज सेक्टर में हुए नुकसान को देखते हुए लिया गया है। ताकी इसकी कुछ भरपाई की जा सके।

देश में Corona की दूसरी लहर इस महीने के अंत में होगी अपने चरम पर

Nepal पहुंचते ही फिर से कराना होगा टेस्ट

पर्यटन मंत्रालय की वेबसाइट पर गुरुवार शाम को पोस्ट किए गए नए ट्रैवल प्रोटोकॉल के अनुसार, Nepal में प्रवेश करने वाले पर्यटकों को अपनी टीकाकरण वाली रिपोर्ट जमा करनी होगी। इसके साथ ही कहा गया है कि अपने देश से निकलने से 72 घंटे पहले की यह रिपोर्ट जमा करे। एक नकारात्मक पॉलीमरेज़ चेन रिएक्शन (पीसीआर) टेस्ट रिपोर्ट फॉर्म भी जमा करना होगा। हवाई यात्रा से पहले एंटी-कोरोनावायरस वैक्सीन की दोनों खुराक के दस्तावेजों को जमा करना यहां पर अनिवार्य कर दिया गया है।इसके साथ ही कहा गया है कि नेपाल पहुंचने के बाद पर्यटकों को अन्य पीसीआर टेस्ट से गुजरना होगा। साथ ही कहा गया है कि इस टेस्ट का खर्चा उनको खुद उठाना होगा और जब तक रिपोर्ट नहीं आएगी तब तक उन्हें एक होटल में आइसोलेट होना पड़ेगा। अगर रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो नियम के अनुसार उन्हें होटल में अपने खर्चे पर आइसोलेट रहना होगा।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है