UP के त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में मतगणना का दौर सोमवार को भी जारी है। इस बीच प्रदेश के कई जिलों से प्रत्याशियों की मौत की खबर आई है। ऐसे हैं जो प्रधानी का चुनाव तो जीत गए मगर रिजल्ट से पहले ही जिंदगी की जंग हार गए। मैनपुरी, प्रतापगढ़, कन्नौज, बाराबंकी में कई प्रत्याशियों की मौत हो गई, लेकिन वे प्रधानी का चुनाव जीत गए। अब इन सभी खाली सीटों पर फिर से मतदान होगा।

प्रतापगढ़ (Pratapgarh) में दो प्रत्याशियों की मौत हुई जो प्रधानी का चुनाव जीत गए। कालाकांकर ग्राम पंचायत की निवर्तमान ग्राम प्रधान मंजू सिंह 451 मत पाकर प्रधानी का चुनाव जीतीं है। तीन बार अपने गांव की प्रधान रह चुकीमृतक मंजू सिंह मतगणना से तीन दिन पहले बीमारी की वजह से उनकी मौत हो गयी। वही मंगरौरा ब्लॉक के मदुरा रानीगंज गांव से प्रधान प्रत्याशी रामसुख 523 वोट पाकर प्रधानी का चुनाव जीते, लेकिन जिंदगी की जंग में हार गए। दोनों ही प्रधान पद के प्रत्याशियों की तीन दिन पहले बीमारी के चलते निधन हुआ था। 19 अप्रैल 2021 को मतदान होने के बाद दोनों की तबीयत बिगड़ी थी।

कन्नौज में भी प्रधानी का चुनाव जीतने वाले एक प्रत्याशी की कोरोना (covid-19) संक्रमण की वजह से मौत हो गयी। मृतक रामेंद्र 359 वोट पाकर विजयी हुए हैं। उन्होंने जलालाबाद ब्लॉक के उत्तमापुर ग्राम पंचायत से चुनाव लड़ा था।

मैनपुरी की ग्राम पंचायत नगला ऊसर से प्रधान पद के लिए पिंकी देवी (pinki devi) पत्नी सुभाष चंद्र ने पर्चा दाखिल किया था। मतदान भी सकुशल संपन्न हुआ, लेकिन बीते बुधवार अचानक पिंकी की तबीयत बहुत ज्यादा खराब हो गई। सांस लेने में तकलीफ होने पर परिजन पिंकी को लेकर Agra के एक निजी अस्पताल पहुंचे और उपचार के लिए भर्ती कराया। पिंकी ने उपचार के दौरान ही दम तोड़ दिया। गौरतलब है कि आज जब मतगणना हुई तो पिंकी देवी निर्वाचित घोषित हुईं। उन्हें कुल 388 वोट मिले, वहीं उनकी निकटतम प्रतिद्वंदी चंद्रावती को 273 वोट मिले। ऐसे में पिंकी देवी ने 115 वोटों से विजय हासिल की, लेकिन उनकी मौत हो जाने से समर्थक और परिजन बेहद दुखी नजर आ रहें है।

बाराबंकी के हैदरगढ़ ब्लॉक की ग्राम पंचायत रनापुर से प्रधान पद पर कुसुमलता ने 60 वोटों के अंतर से जीत दर्ज की। इनकी चार दिन पहले लखनऊ में इलाज के दौरान मृत्यु हो गई थी। वहीं, सिद्धौर ब्लॉक के देवकली ग्राम पंचायत के प्रधान प्रत्याशी भगौती प्रसाद वर्मा (75) की शनिवार देर रात मौत हो गई। चुनाव में उन्हें 510 वोटों से जीत मिली। वहीं, पड़रावा सीट पर प्रधान प्रत्याशी रही शिवकुमारी (60) की रविवार को मतगणना के दौरान ही मौत हो गई, हालांकि देर रात तक परिणाम नहीं आ सका।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है