उसी दौरान नरेंद्र मोदी के सुरक्षाकर्मियों घबरा गए थे और उन्हें एकदम से पकड़ लिया। जिसके चलते मौके पर मौजुद लोगों में अफरा-तफरी मच गई।

शनिवार के दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कानपुर में नेशनल गंगा काउंसिल की बैठक में शामिल हुए थे। इसी दौरान वह कानपुर में नमामि गंगा प्रोजेक्ट की जांच और दर्शन करने के लिए पहुंचे थे। गंगा में यात्रा के बाद वह वापस घाट पर लौटे। बोट से उतरने के बाद जब वह सीढिय़ां चढ़कर ऊपर घाट की ओर जा रहे थे तो उनकी हालत खराब हो गई और वे अचानक से सीढ़िय़ों पर गिर पड़े थे। उसी दौरान नरेंद्र मोदी के सुरक्षाकर्मियों घबरा गए थे और उन्हें एकदम से पकड़ लिया। जिसके चलते मौके पर मौजुद लोगों में अफरा-तफरी मच गई। हालांकि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कही भी चोट लगने की खबर सामने नहीं आई है। इस घटना का वीडियो भी सामने आया है, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

महिलाओं पर होने वाले अपराध के खिलाफ हल्ला बोल, कांग्रेस ने ऐसे किया प्रदर्शन

सूत्रों से पता चला कि जिस सीढ़ी पर नरेंद्र मोदी गिरे थे। दरअसल वे तबीयत खराब होने के चलते नहीं बल्कि सीढ़ी पर उनका पैर फंसने की वजह से वे फिसल गए थे। पता चला है कि फिसलने की वजह सीढ़ी का ऊंचा होना बताया जा रहा है। जिस सीढ़ी पर पैर फंसने के कारण पीएम मोदी फिसले, उसी सीढ़ी पर पहले भी कई अधिकारी गिर चुके हैं।

13 दिन से अनशन पर बैठीं स्वाति मालीवाल का टूटा अनशन

Image result for PM Modi Kanpur Visit : एनजीसी की पहली बैठक के बाद गंगा दर्शन, अटल घाट में सीढिय़ों पर फिसले प्रधानमंत्री

इस सीढ़ी को लेकर अधिकारियों ने शुक्रवार रात चर्चा भी की थी। सुधीर एम बोबडे ने SPG सुरक्षाकर्मियों को बता दिया था कि अटल घाट पर एक सीढ़ी ज्यादा ऊंची है। SPG सुरक्षाकर्मियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सीढ़ी की स्थिति के बारे में जानकारी पहले ही दी थी। लेकिन ये घटना अचानक से हुई। जिसके बाद सीढ़ी को ठीक कराने के लिए निर्माण एजेंसी से बात करके इसकी जांच कराई जाएगी और सीढिय़ों को तोड़कर दोबारा से सही तरीके से बनाया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here