जानें कैसे, ईंधन की बढ़ती कीमतों के बीच Cow Dung कर सकता है आपकी मुश्किल आसान

हर दिन बढ़ते Petrol-Diesel के दामों ने लोगों का बजट बिगाड़ कर रख दिया है। महंगे Petrol-Diesel की काट क्या Cow Dung में छिपी है? National Cow Commission के मुताबिक तो इसका जवाब ‘हां’ में है। ईंधन की बढ़ती कीमतों के बीच National Cow Commission ने लोगों को Cow Dung से बनी Natural gas (CNG) का इस्तेमाल करने की नसीहत दी है ताकि लोगों को ‘सस्ता और मेड इन इंडिया फ्यूल’ मिले।

देश में Petrol-Diesel की कीमत रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच चुकी है। देश के कई हिस्सों में तो Petrol की कीमत 100 रुपए प्रति लीटर के पार जा चुकी है। Delhi में एक लीटर Petrol के लिए ग्राहकों को 89.29 रुपए खर्च करने पड़ रहे हैं तो Diesel की कीमत 79.70 रुपए लीटर है। राजस्थान और मध्य प्रदेश में Petrol 100 रुपए लीटर है।

Central Government के Animal Husbandry Department के तहत काम करने वाले आयोग ने दावा किया है कि Cow Dung बहुत अधिक मुनाफा देता है और आकर्षक कारोबारी संभावनाएं उपलब्ध कराता है। आयोग ने सांडों के लिए वीर्य बैंक की भी सलाह देते हुए कहा कि इसका कारोबार बेहद आकर्षक है।

National Kamadhenu Commission या आरकेए (राष्ट्रीय गौ आयोग) ने वाहनों के लिए गाय गोबर CNG Pump, सांड वीर्य बैंक और गौ पर्यटन जैसे सुझाव दिए हैं ताकि ‘गाय उद्यमिता’ को बढ़ावा मिले। आरकेए ने वेबसाइट पर कहा है, ”आरकेए के कई वेबनायर में गाय उद्यमिता के विचार पर चर्चा की गई है। दुनियाभर के कई उद्यमी सदियों पुरानी बुद्धिमता का नई टेक्नॉलजी के साथ इस्तेमाल करके सदाबहार संभावनाओं की तलाश कर रहे हैं।” बता दें कि आयोग ने यह सलाह उस डॉक्युमेंट में दी है जिसे नेशनल ‘काउ साइंस एग्जाम’ में पेश होने जा रहे विद्यार्थियों के लिए वेबसाइट पर अपलोड किया गया है।

डॉक्युमेंट में कहा गया है, ”ईंधन के रूप में बायोगैस का इस्तेमाल लंबे समय से होता रहा है। इन्हें सिलेंडर में भरा जाता है और कुकिंग के लिए इस्तेमाल होता है। Cow Dung से मिली ऊर्जा का इस्तेमाल परिवहन के लिए भी हो सकता है। बड़े पैमाने पर उसके उत्पादन से कोई CNG Pump भी लगा सकता है। इससे Transportation industry को सस्ता और आसानी से उपलब्ध मेड इन इंडिया ऊर्जा की उपलब्धता होगी।”

यह भी पढ़ें: Shahjahanpur में उन्नाव जैसा कांड !

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है