Coronavirus एक तरफ जहां लोगों की जान ख़तरे में डाल रहा है वहीं अब लोग सांस लेने को भी तरस रहे हैं। कोरोना संक्रमित गंभीर मरीजों को अब ऑक्सीजन की कमी से जूझना पड़ रहा है। यह कमी उनकी जान पर भारी पड़ने लगी है। कई छोटे-बड़े निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन की भारी कमी है। Oxygen की कमी के कारण अस्पताल मरीजों को भर्ती करने से इनकार करने लगे हैं।

Oxygen नहीं मिलने के कारण भर्ती मरीजों का भी इलाज करने में अस्पतालों को मुश्किल होने लगी है। कई छोटे अस्पताल परिजनों को स्वयं ऑक्सीजन की व्यवस्था करने तक की ज़िम्मेदारी देने लगे हैं।

Oxygen संक्रमितों के बड़ी संख्या में मिलने के कारण ऑक्सीजन सिलेंडरों की मांग लगभग 700 प्रतिशत तक बढ़ गई है। ऑक्सीजन के संचालक ने बताया कि पहले उनके यहां 100 सिलेंडर प्रतिदिन की मांग थी। अब कम से कम 700 सिलेंडर की मांग आ रही है। लेकिन वे इतनी मांग पूरा करने में अक्षम हैं। क्योंकि निर्माता कंपनी उतनी आपूर्ति नहीं कर पा रही है। उन्होंने बताया कि पहले जहां 10.5 लीटर का Oxygen सिलेंडर 6000 से 6500 में मिलता था, वहीं अब इसके बदले 8500 से 9000 रुपये वसूला जा रहा है।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है