मेंडिकल कॉलेज वालों पर मरीज़ को गायब करने का आरोप

फ़िरोज़ाबाद के कोविड अस्पताल सौ सैय्या में एक कोरोना मरीज के परिजान ने अस्पताल प्रशासन पर मरीज को गायब  करने का आरोप लगाया है. परिवार वालों का कहना है कि मरीज़  का सुबह से फोन  स्विच ऑफ है. परिजनों को  शक है कि  उनकी मौत  हो गई है और उसके बाद लाश को गायब कर दिया गया है. सुबह से परिवार वाले मरीज़ से फ़ोन पर संपर्क नहीं कर पा रहे से तो परिजनों ने हंगामा किया। उग्र परिजनों को शांत करने के लिए अस्पताल वाले पत्नी को पीपीई किट में लेकर अंदर गए. वार्ड में अंदर उन्हें मरीज़ के कपडे बेड पर पड़े मिले पर मरीज़ कहीं नहीं मिला।   तब परिवार को अस्पताल पर शक हुआ।  उसके बाद आक्रोशित लोग आइसोलेशन वार्ड में घुसे, मरीज की पत्नी ने वहाँ स्टाफ को जम कर गालियां दी।  गेट पर मरीज को दिखाने की मांग पर नारेबाजी भी की।  ये घटना  थाना उत्तर क्षेत्र के विभव नगर के सौ सैय्या हास्पीटल की है।  एसडीएम सदर और कई थानों का फोर्स मौके पर मौजूद है।

विभव नगर निवासी विकास अग्रवाल (39) पुत्र श्रीनिवास अग्रवाल को कोरोना संक्रमित होने पर कोविड हास्पीटल सौ सैय्या में 24 अप्रैल को भर्ती कराया था। यहां पर बुधवार की दोपहर में अचानक मरीज के गायब मिलने की सूचना मिली। मरीज द्वारा फोन नहीं रिसीव करने पर परिजनों को शक हुआ। परिजन दोपहर में कोविड हास्पीटल आ गए और हंगामा नारेबाजी शुरू कर दी। इसके बाद चिकित्साकर्मियों ने पीपीई किट पहनाकर पत्नी चारूल अग्रवाल को अंदर भेजा , लेकिन आरोप है कि बैड पर पति के कपड़े पड़े थे और पति गायब है। महिला ने बाहर आकर परिजनों को पति के गायब होने की बात कही तो रिश्तेदार और जानने वाले कोविड हास्पीटल आ गए और जमकर हंगामा शुरू हो गया। कोविड हास्पीटल से मरीज के गायब होने की सूचना पर एसडीएम, थाना रामगढ़, थाना उत्तर, थाना दक्षिण, महिला पुलिस मौके पर आ गाए । किसी तरह से मामले को शांत करने का प्रयास किया लेकिन कोई सुनने को तैयार नहीं था।  मरीज को दिखाने की मांग ले कर  अस्पताल में  हंगामा चला।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है 

रिपोर्ट: बृजेश सिंह , फ़िरोज़ाबाद