लॉकडाउन उल्लंघन और 32 साल पूर्व के अपहरण के एक मामले में पटना में गिरफ्तार किये गए जाप सुप्रीमो पप्पू यादव (Pappu Yadav) को गुरुवार शाम सुपौल जिले (Supaul District) के वीरपुर जेल से DMCH लाया गया। उन्हें शाम करीब सात बजे एंबुलेंस (Ambulances) से यहां लाया गया। फिलहाल उन्हें डीएमसीएच आईसीयू (DMCH, ICU) में डॉ. यूसी झा के यूनिट में भर्ती कराया गया है। इस दौरान उनकी Ambulances के साथ बड़ी संख्या में समर्थक भी थे।

यहां आने पर Pappu Yadav ने मीडिया को बताया कि मैं लगातार कोरोना वायरस पीड़ित मरीजों की सेवा कर रहा हूं। उन तक खाना और Oxygen पहुंचा रहा हूं। यह कुछ लोगों को ठीक नहीं लगता है। मेरी तबीयत ठीक नहीं है। दो महीना पूर्व गॉल ब्लाडर का operation हुआ है, फिर भी जरूरतमंद लोगों का यथासंभव सहयोग कर रहा हूं। मैं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) से आग्रह करना चाहता हूं कि आप मुझे काम करने दें, मैं आपका सहयोग करूंगा। मैं जब तक जिंदा रहूंगा, लोगों तक खाना और Oxygen पहुंचाता रहूंगा।

मालूम हो कि operation के बाद डॉक्टर ने उन्हें ढाई महीने तक आराम करने की सलाह दी थी। जेल में नॉर्मल पानी पीने और शरीर का वजन अधिक होने की वजह से इंडियन टॉयलेट (Indian Toilet) का उपयोग करने के कारण उनकी तबीयत बिगड़ गई। इसके बाद डॉक्टरों ने Medical टीम का गठन कर उन्हें बेहतर इलाज के लिए DMCH रेफर कर दिया। DMCH अधीक्षक डॉ. मणिभूषण शर्मा ने बताया कि Pappu Yadav को मेडिसिन विभाग (Department of Medicine) के ICU में डॉ. यूसी झा के यूनिट में भर्ती किया गया है। उनका रूटीन चेकअप कर लिया गया है। अभी वो क्लीनिकली नॉर्मल (Clinically normal) हैं। operation वाली जगह पर थोड़ा टेंडरनेस लग रहा है। उनको डायबिटीज की भी शिकायत है। उनका रूटीन ब्लड टेस्ट भी किया जा रहा है। उनकी रिपोर्ट आने पर उनका उचित इलाज किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: Lockdown: 25 मई तक रहेगा लागू , बिहार में बढ़ा 10 दिन का लॉकडाउन

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है