Corona Virus से न जाने कौन कौन मर गया और न जाने कितने ही घर तबाह हो गए। परेशान लोग किसी की भी बातों में आ जाते हैं दरअसल Corona Virus का संक्रमण तो फैल ही रहा है, साथ में देश में अफवाहें भी उससे अधिक रफ्तार में फैल रही हैं। Corona से बचने का उपाय मिल गया है कि Vaccine लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने और मास्क पहनने से हम इस पर काबू पा सकते हैं। मगर अफवाहों को फैलने से रोकने का अब तक कारगर हथियार नहीं मिल पाया है। इसी कड़ी में सोशल मीडिया पर एक दावा किया जा रहा है कि कोरोना से मौत होने पर सरकार करीब 4 लाख का मुआवजा देती है और उसका एक फॉर्म भी वायरल हो रहा है।

जानें, मामले की सच्चाई

आज कल सोशल मीडिया पर एक फर्जी फॉर्म वायरल हो रहा है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि राज्य आपदा मोचक निधि के अंतर्गत कोरोना के कारण मृत्यु होने पर ₹4,00,000 की सहायता देने का प्रावधान है। लोग इस दावे को सच मान रहे हैं और इसे धड़ल्ले से शेयर भी कर रहे हैं। मगर हकीकत यह है कि यह दावा पूरी तरह से फर्जी है। बता दें कि पीआईबी की फैक्ट चेक टीम ने अपनी इस पड़ताल में यह पाया है कि यह दावा पूरी तरह से फर्जी है। उसने कहा है कि राज्य आपदा मोचक निधि (SDRF) के अंतर्गत स्वीकृत मानदंडों में ऐसा कोई प्रावधान नहीं है। अब यह बात जब साबित हो गई है कि यह दावा फर्जी है तो इसे शेयर करने से आप भी बचें।

यह भी पढ़ें: एक और नये फंगल इंनफेक्शन की पुष्टी,गुजरात में पाये गये 8 मरीज़

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है