वक़्त की क़ीमत क्या होती है ये उस इंसान को पता होता है जिसके पास वक़्त की कमी हो। Office में काम करने वालों के वक़्त की क़दर मालिक कभी नहीं करता। उन्हें यही लगता है कि अगर कोई वर्कर 10 मिनट या आधा घंटा एक्स्ट्रा रुक भी गया तो क्या आफत आजाएगी लेकिन अब मालिक को आपके वक़्त की क़दर करनी पड़ेगी। नए Labor Laws के तहत अगर किसी भी कर्मचारी से 15 मिनट भी ज्यादा काम कराया तो कंपनी को Overtime देना पड़ेगा। वहीं ड्राफ्ट के मुताबिक कामकाज के घंटे बढ़कर 12 हो जाएंगे।

Modi Government इन नए नियमों को देश भर में 1 अप्रैल 2021 से लागू करने की तैयारी में हैं। गौरतलब है कि देश के 73 साल के इतिहास में पहली बार इस प्रकार से Labor Law में बदलाव किए जा रहे हैं। सरकार का दावा है कि नियोक्ता और Labor दोनों के लिए फायदेमंद साबित होंगे।

सक्सेस का मंत्र तेजी से तरक्की पाने के लिए मेंटर जरूर बनाए

Overtime के नए नियमों के हिसाब से कामकाजी घंटों (Working hours) के बाद अगर कामगार से 15 मिनट भी ज्यादा काम कराया गया तो उसे Overtime माना जाएगा। पहले यह दायरा आधा घंटा हुआ करता था। Employee Contract पर हो या फिर स्थाई उस पर लगातार 5 घंटे से ज्यादा काम का दबाव नहीं बनाए जाने के भी प्रावधान तय किए गए हैं। कंपनी के लिए उसे हर 5 घंटे में आधे घंटे का Break देना जरूरी किया जाएगा। साथ ही Break का यह समय भी Working hours में ही जोड़ा जाएगा। वहीं, कंपनियों में कर्मचारियों (Employees) के लिए कैंटीन जरूरी करने और Government Schemes को मजबूती से लागू करने के लिए Welfare Officer नियुक्त करने के नियम तय कर दिए गए हैं।

अगर नए Labor Law 1 अप्रैल से लागू हुए तो आपकी Gratuity, PF और काम के घंटों में बड़ा बदलाव देखने को मिल सकता है। Employees को Gratuity, और भविष्य निधि (पीएफ) मद में बढ़ोतरी होगी। वहीं, हाथ में आने वाला पैसा (Take Home Salary) घटेगी लेकिन Retirement पर मिलने वाला पैसा बढ़ सकता है। यहां तक कि इससे कंपिनयों की Balance Sheet भी प्रभावित होगी।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है