चुनाव का वक़्त हो और EVM को लेकर विवाद न हो ऐसा तो नामुमकिन है। असम में वोटिंग के बाद EVM मशीन को बीजेपी नेता की कार में ले जाने पर हिंसा भड़क गई।

जानें पूरा मामला

करीमगंज जिले के रत्नारी विधानसभा क्षेत्र में गुरुवार को मतदान था और वोटिंग के बाद Polling Team को लेकर चुनाव आयोग की गाड़ी से जा रही थी। इस बीच उनकी कार खराब हो जाने के चलते टीम ने पास से गुजर रही एक कार में लिफ्ट ले ली थी। यह कार कथित तौर पर करीमगंज जिले की ही पाथरकंडी Assembly seat के बीजेपी उम्मीदवार से जुड़ी हुई थी। इस पर एक जगह भीड़ ने कार पर हमला कर दिया और तोड़फोड़ मचा दी। सूत्रों के मुताबिक इस मामले में पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ EVM ले जा रही कार पर हमला करने के आरोप में केस दर्ज कर लिया है। पूरे मामले की जांच की जा रही है। सूत्रों के अनुसार इस हमले के दौरान पोलिंग पार्टी EVM को बचाने में कामयाब रही है और उसे कोई नुकसान नहीं पहुंचा है।

इस मुद्दे पर राजनीति भी तेज हो गई है। कांग्रेस नेता Priyanka Gandhi Vadra ने ट्वीट कर चुनाव आयोग से निजी कार में EVM ले जाने पर एक्शन लेने की मांग की है। Priyanka Gandhi ने कई ट्वीट कर बीजेपी पर इसे लेकर निशाना साधा है।

यूपी:  कोरोना के साए में पंचायत चुनाव

उन्होंने लिखा, ‘हर बार चुनाव के दौरान वीडिया आते हैं, जिनमें निजी वाहर EVM ले जाते दिखते हैं। इनमें एक चीज कॉमन होती है कि वे वाहन BJP के उम्मीदवार या फिर उनके सहयोगियों के होते हैं।’ Priyanka Gandhi ने कहा कि BJP अकसर अपनी मीडिया मशीनरी का इस्तेमाल करते हुए ऐसे वीडियोज पर सवाल उठाने वाले लोगों को ही हारा हुआ घोषित करने का प्रयास करती है। Priyanka Gandhi ने कहा कि सच्चाई यह है कि ऐसे मामले बहुत ज्यादा देखने को मिलते हैं, लेकिन उनके खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया जाता है।

Priyanka Gandhi ने कहा कि अब देश भर की तमाम राष्ट्रीय पार्टियों को EVM के इस्तेमाल पर सोचना चाहिए। असम में गुरुवार को 39 सीटों पर दूसरे चरण का मतदान हुआ था। रिकॉर्ड 77 फीसदी वोटिंग के साथ मतदाताओं ने चुनाव में जबरदस्त उत्साह दिखाया है। हालांकि इस दौरान कई स्थानों पर हिंसा की भी कुछ घटनाएं दर्ज की गईं।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है