अब Coronavirus बच्‍चों को भी अपनी चपेट में ले रहा है ज‍बकि पिछले साल ऐसा बहुत कम हुआ था। इस वजह से बच्‍चों के लिए भी Corona Vaccine जल्‍द लाने की मांग तेजी से उठने लगी है। ऐसा होना भी चाहिए क्‍योंकि बच्‍चों में या तो Corona के हल्‍के लक्षण दिख रहे हैं या फिर कोई लक्षण ही नहीं हैं। ऐसे बच्‍चे Corona को साइलेंटली फैलाने का काम कर रहे हैं इसलिए अब बच्‍चों के लिए भी Vaccine की जरूरत बढ़ गई है।

बच्चों को हीं सहना होगा Vaccine की सुई का दर्द

बच्‍चों के लिए इंजेक्‍शन की बजाय Nasal Vaccine को ज्‍यादा सही बताई जा रही है। एम्‍स के डायरेक्‍टर रनदीप गुलेरिया ने कहा कि स्‍कूल जाने वाले बच्‍चों को Nasal Covid Vaccine देना आसान होगा। इनमें वायरस के हल्‍के लक्षण होते हैं लेकिन फिर भी ये Virus को दूसरों तक फैला सकते हैं। उनका कहना है कि जब बच्‍चे स्‍कूल जाना शुरू करेंगे, तब वो Coronavirus से संक्रमित हो सकते हैं। ऐसा संभव है कि बच्‍चों को इस Virus से कोई ज्‍यादा परेशानी न हो लेकिन जब वो स्‍कूल से घर आएंगे तो अपने पेरेंट्स और दादा-दादी को संक्रमित कर सकते हैं। ऐसे में बच्‍चों के लिए Vaccine का जल्‍द से जल्‍द आना जरूरी है।

जानें, क्‍या है Nasal Vaccine

नासिका मार्ग यानि नाक में दवा डाली है जिसे Nasal Vaccine कहा जाता है। इसके लिए सुईं लगाने की जरूरत नहीं है। Corona के मामले में Nasal Vaccine श्‍वसन मार्ग से लेकर नासिका वायुमार्ग तक इंफेक्‍शन पर इम्‍यून रिस्‍पॉन्‍स को बढ़ाने में कारगर है। बच्‍चों के लिए Nasal Vaccine से इंफेक्‍शन को भी रोका जा सकता है और Coronavirus को फैलाने से भी रोका जा सकता है। अनुमान लगाया जा रहा है कि बच्‍चों के लिए ये Nasal Vaccine अगले साल ही आएगी।

हैदराबाद की भारत बायोटेक कोवैक्‍सीन Covid Vaccine बना चुकी है और अब यह वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी स्‍कूल ऑफ मेडिसिन के साथ मिलकर बच्‍चों के लिए बीबीवी154 Nasal Vaccine तैयार करने में लगी है। खबरों के मुताबिक बच्‍चों पर इस Vaccine के ट्रायल का पहला फेज सफल हो चुका है और दूसरा और तीसरा ट्रायल चल रहा है।

यह भी पढ़ें: Corona के साथ लोगों पर पड़ रही है महंगाई की मार,…

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है